Unnao Bus Accident: परिवहन आयुक्त ने जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम की गठित, इन बिंदुओं पर करेगी पड़ताल

परिवहन आयुक्त ने जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम की गठित, इन बिंदुओं पर करेगी पड़ताल
UPT | Unnao Bus Accident

Jul 10, 2024 19:56

परिवहन आयुक्त चंद्र भूषण सिंह ने प्रकरण की जांच के लिए तीन सदस्यीय विभागीय टीम का गठन किया है। टीम को दुर्घटना से जुड़ी सभी पहलुओं की गहराई से जांच पड़ताल करके अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।

Jul 10, 2024 19:56

Lucknow News: प्रदेश के उन्नाव जनपद में बुधवार सुबह लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे भीषण सड़क हादसे के बाद परिवहन ​महकमा मामले की जांच पड़ताल में जुट गया है। सामने आया है कि बस बिना परमिट और बिना बीमा के चल रही थी। पता भी फर्जी पाया गया है। वहीं परिवहन आयुक्त ने मामले की जांच के लिए विभाग के तीन अधिकारियों की टीम गठित कर दी है।

इन अधिकारियों को किया गया शामिल
परिवहन आयुक्त चंद्र भूषण सिंह ने प्रकरण की जांच के लिए तीन सदस्यीय विभागीय टीम का गठन किया है। इसमें उप परिवहन आयुक्त (परिक्षेत्र) लखनऊ सुरेन्द्र कुमार, संभागीय परिवहन अधिकारी (प्रवर्तन) लखनऊ संदीप पंकज और संभागीय निरीक्षक (प्राविधिक) उन्नाव कृष्ण कुमार यादव को शामिल किया गया है। टीम को दुर्घटना से जुड़ी सभी पहलुओं की गहराई से जांच पड़ताल करके अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। इस रिपोर्ट के आधार पर उच्चाधिकारी आगे की कार्रवाई करेंगे। दोषी पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बिहार से दिल्ली जा रही थी बस
उन्नाव जनपद के बेहटा मुजावर गांव के निकट बिहार के सीतामढ़ी से दिल्ली जा रही स्लीपर बस यूपी 95 टी 4729 और दुग्ध टैंकर वाहन यूपी 70 सीटी 4159 के बीच टक्कर होने से बस में सवार 18 लोगों की मौत हो गई। इनमें 14 पुरुष, तीन महिलाएं तथा एक बच्चा शामिल है। बताया जा रहा है कि बस में 55 लोग सवार थे। दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पांच घायलों को बेहतर इलाज के लिए लखनऊ रेफर किया गया है।

कई बिंदुओं पर जांच करेगी टीम
इस हादसे को लेकर एआरटीओ (प्रवर्तन) और संभागीय निरीक्षक को दुर्घटनाग्रस्त बस की बॉडी कोड एआईएस-119 के आधार पर जांच करने को कहा गया है। बताया जा रहा है कि अगर जांच में बस की बॉडी कोड एआईएस-119 से अलग पाई जाती है तो संबधित अफसरों के खिलाफ कार्रवाई को लेकर शासन को रिपोर्ट भेजी जाएगी। इसके साथ ही जांच में रम्बल स्ट्रिप, ट्रैफिक कॉमिंग मेजर्स व ओवरस्पीडिंग आदि बिंदु भी शामिल किए गए हैं। भविष्य में इस तरह के हादसों को रोकने के लिए टीम अपनी ओर से सुझाव भी देगी, जिसके आधार पर उसकी संस्तुति को संबंधित विभाग को की जाएगी। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक स्लीपर बस अनियंत्रित होकर टैंकर से टकराई थी, जिसकी वजह से हादसा हुआ है। 

हादसे पर जताया शोक
इस हादसे के मृतकों में बिहार के 11 लोग हैं। इसमें एक ही परिवार के 6 लोग शामिल हैं। दुर्घटना को लेकर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार  सहित अन्य मंत्रियों व नेताओं ने गहरा शोक जताया है। 

Also Read

गजरियन खेड़ा में डायरिया से पीड़ित तीन मरीज भर्ती, गांव में दिन भर चला सफाई अभियान

18 Jul 2024 02:10 AM

लखनऊ Lucknow News : गजरियन खेड़ा में डायरिया से पीड़ित तीन मरीज भर्ती, गांव में दिन भर चला सफाई अभियान

पीजीआई कोतवाली क्षेत्र के गजरियन गांव में डायरिया के फैलने की जानकारी व एक की मौत के बाद महापौर, नगर आयुक्त और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बुधवार को पीजीआई क्षेत्र के कल्ली पश्चिम.... और पढ़ें