advertisements
advertisements

Baghpat News : जयंत चौधरी के मंत्री बनने से वेस्ट यूपी के युवाओं को शिक्षा और रोजगार के क्षेत्र में उम्मीद

जयंत चौधरी के मंत्री बनने से वेस्ट यूपी के युवाओं को शिक्षा और रोजगार के क्षेत्र में उम्मीद
UPT | रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी

Jun 11, 2024 08:44

राज्यसभा सदस्य बने तो उन्होंने अपनी पांच करोड़ की सांसद निधि युवाओं के लिए खेल पर खर्च को दी थी। जिसके बाद उनकी निधि का जो भी रुपया खर्च हुआ...

Jun 11, 2024 08:44

Short Highlights
  • विदेश में अपनी पढ़ाई के अनुभव का कौशल विकास मंत्रालय को देंगे लाभ 
  • केंद्र में राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार की जिम्मेदारी मिलने से बढ़ा कद
  • राज्यमंत्री बनते ही अपनी पूरी सांसद निधि खेल पर की थी खर्च 
Baghpat News : रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी को मोदी मंत्रमंडल में राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार बनाए जाने से उनका कद बढ़ा है। चौधरी जयंत सिंह को कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार की जिम्मेदारी सौंपी गई है। वहीं उनको शिक्षा मंत्रालय में राज्यमंत्री बनाया है। चौधरी जयंत को इन मंत्रालयों के मिलने से वेस्ट यूपी के युवाओं को रोजगार व शिक्षा के क्षेत्र में लाभ मिलने की उम्मीद है।

पांच करोड़ की सांसद निधि खेल पर खर्च 
जयंत चौधरी जब सपा कोटे से राज्यसभा सदस्य बने तो उन्होंने अपनी पांच करोड़ की सांसद निधि युवाओं के लिए खेल पर खर्च को दी थी। जिसके बाद उनकी निधि का जो भी रुपया खर्च हुआ है, वह खेल सुविधाओं को बेहतर करने पर हुआ। ऐसे में माना जा रहा है कि जयंत चौधरी को कौशल विकास एवं उद्यमिता और शिक्षा मंत्रालय मिलने से पश्चिम उत्तर प्रदेश के युवाओं को फायदा मिलेगा। 

कौशल विकास और उद्यमिता के क्षेत्र में पिछड़ा वेस्ट यूपी 
बता दें वेस्ट यूपी कौशल विकास और उद्यमिता के क्षेत्र में काफी पिछड़ा हुआ है। यहां युवाओं को बेहतर सुविधाएं नहीं है। पॉलीटेक्निक, आईटीआई व अन्य तकनीकी संस्थान के बढ़ाने से इस क्षेत्र में कार्य करने वाले युवाओं की मांग बढ़ेगी। इसके लिए युवाओं को प्रशिक्षण देकर तैयार किया जाए तो युवा रोजगार की समस्या भी दूर होगी। कौशल विकास की बेहतर सुविधाएं मिलने पर युवाओं का रूझान स्वरोजगार की तरफ बढ़ेगा। 

शिक्षा का बुनियादी ढांचा बेहतर करने के लिए अभी यहां पर बेहतर संस्थानों की जरूरत
वेस्ट यूपी में कौशल विकास और शिक्षा का बुनियादी ढांचा बेहतर करने के लिए अभी यहां पर बेहतर संस्थानों की जरूरत है। इस दिशा में जयंत चौधरी का विदेश में पढ़ाई का अनुभव फायदेमंद साबित हो सकता है। जयंत चौधरी की प्रारंभिक शिक्षा दिल्ली मॉडर्न स्कूल से हुई। इसके बाद दिल्ली विवि से अर्थशास्त्र में स्नातक करने के बाद 2002 में लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में पोस्ट ग्रेजुएट किया। ऐसे में जयंत चौधरी देश और विदेश की शिक्षा तकनीक जानकारी से वेस्ट यूपी को इस क्षेत्र में काफी बेहतर स्थिति में ला सकते हैं। 

प्रधानमंत्री के स्किल इंडिया सपने को पूरा करता कौशल विकास 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्किल इंडिया की शुरूआत की थी। युवाओं को रोजगार की जरूरत को कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय पूरा कर सकता है। इससे उनको कौशल करके औद्योगिक क्षेत्र में कार्य लिया जा सकता है। जरूरत के मुताबिक युवाओं को विदेशों की कंपनियों में जॉब के लिए भेजा जा सकेगा। 

Also Read

खुर्जा और बुलन्दशहर विकास प्राधिकरण को मिलाकर गठित होगा नया प्राधिकरण

13 Jun 2024 08:08 PM

बुलंदशहर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का निर्णय : खुर्जा और बुलन्दशहर विकास प्राधिकरण को मिलाकर गठित होगा नया प्राधिकरण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरूवार को हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में खुर्जा, बुलन्दशहर और मुरादाबाद विकास प्राधिकरणों की जीआईएस आधारित महायोजना-2031 के प्रस्तुतिकरण का... और पढ़ें