विरासत की वाहक बने आगरा मेट्रो : ‘पोइट्री इन मोशन’ की कार्ययोजना पेश, जानें क्या है खास...

‘पोइट्री इन मोशन’ की कार्ययोजना पेश, जानें क्या है खास...
UPT | मेट्रो अफसरो को कार्ययोजना की जानकारी देती संस्था की सदस्य।

Jul 11, 2024 15:44

आगरा में मेट्रो रेल स्थानीय नागरिकों और पर्यटकों को पुरातात्विक विरासत स्थलों एवं जनमहत्व के स्थानों से जोड़ने में अपनी प्रभावी भूमिका के निर्वहन का काम शुरू कर चुकी है। कोशिश है कि यह महानगर की...

Jul 11, 2024 15:44

Agra News : आगरा में मेट्रो रेल स्थानीय नागरिकों और पर्यटकों को पुरातात्विक विरासत स्थलों एवं जनमहत्व के स्थानों से जोड़ने में अपनी प्रभावी भूमिका के निर्वहन का काम शुरू कर चुकी है। कोशिश है कि यह महानगर की साहित्यिक एवं सांस्कृतिक विशिष्टियों की जानकारी देने का भी सशक्त माध्यम बने। इसके मद्देनजर अमृत विद्या एजुकेशन फार इम्मोर्टालिटी का प्रतिनिधिमंडल यूपी मेट्रो आगरा की असिस्टेंड मैनेजर गौरी शुक्ला से मिला और संस्था के जनरल सेक्रेटरी अनिल शर्मा ने उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (यूपीएमएससीएल) को कार्ययोजना प्रस्तुत है। 

अ​फसरों को भेजेंगी कार्ययोजना
यूपी मेट्रो आगरा की असिस्टेंट मैनेजर गौरी शुक्ला ने कहा कि आगरा कवियों, शायरों और साहित्यकारों के लिये विख्यात रहा है। यहां की बौद्धिक विरासत अनेक ‘ट्रैवलरों’ के लिये अपने आप में आकर्षण है। उन्होंने कहा कि संस्था द्वारा प्रस्तुत कार्ययोजना महत्वपूर्ण है, इसके प्रारूप को वह सक्षम अधिकारियों के समक्ष विचारार्थ भेजेंगी। 

पोइट्री इन मोशन
आगरा की बौद्धिक और साहित्यिक संपदा पर चर्चा करते हुए अंतर्राष्ट्रीय ख्याति के इंग्लिश पोयट राजीव खंडेलवाल ने कहा कि विश्व के प्रमुख महानगरों की मेट्रो सेवाओं में सफर का उन्हें अनुभव है। इनमें से कई में ‘पोइट्री इन मोशन’ या उस जैसी स्थानीय साहित्यिक गतिविधियों को प्रचलित करने में योगदान दिया हुआ है। उनकी दृष्टि में यह मानसिक तनाव और सुखद अनुभूतियों का अवसर बढ़ाने वाला कार्य है। वह चाहते हैं कि आगरा के मेट्रो ट्रैवलर भी अपनी यात्रा के दौरान स्थानीय साहित्य सर्जकों संबधित जानकारियों को जानें। प्रख्यात कवि सूरदास, गजलकार मिर्जा गालिब, नजीर आदि का खासतौर से उल्लेख कर उनकी स्थानीयता के परिप्रेक्ष्य में चर्चा की गई।

स्टेशनों का भ्रमण
पूर्व में अमृत विद्या एजुकेशन फार इम्मोर्टालिटी की टीम ने अपने प्रस्ताव "Poetry in Motion" को दृष्टिगत पहले कॉरिडोर के ताज पूर्वी गेट, बसई, फतेहाबाद (एलिवेटेड) और ताजमहल, आगरा फोर्ट व मनकामेश्वर भूमिगत स्टेशनों का भ्रमण कर उन उपयुक्त स्थलों को चिन्हित किया, जहां कि साहित्यकारों के चित्र, प्रेरक प्रसंग, कवितायें और पेंटिंग आदि लगाई जा सकें। 

मेट्रो में एक्टिविटीज के अवसर
गौरी शुक्ला ने बताया कि शहरवासियों को यूपी मेट्रो आगरा ने जन्म दिवस, स्टूडेंट्स के विजिट, प्री वेडिंग शूट आदि के पूर्व अनुमति सहित निर्धारित शर्तों के साथ भरपूर अवसर दिये हुए हैं। उन्होंने कहा कि मेट्रो रेल के अलावा मेट्रो स्टेशन पर भी अनेक गतिविधियां आयोजित करना संभव है। इनमें वाद्य यंत्र प्रस्तुति, गायन या अन्य कलाओं का प्रदर्शन शामिल है। कई कवि सम्मेलन और सांस्कृतिक प्रस्तुतियां भी मेट्रो रेल स्टेशनों के परिसर में हो चुके हैं। 

शुद्ध पानी, सुविधाजनक पार्किंग
एक जानकारी में गौरी शुक्ला ने बताया कि मेट्रो स्टेशनों पर यथासंभव सुविधाजनक पार्किंग की व्यवस्था यूपी मेट्रो आगरा का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि जहां सभी स्टेशनों पर पीने के पानी के लिये आरओ लगे हुए हैं, वहीं सभी स्टेशनों पर वर्षा जल के संचय हेतु हार्वेस्टिंग के लिये उपयोग करने की व्यवस्था है।

बढ़ रहे हैं फुटफॉल
उल्लेखनीय है कि शुरू होने एक साल से भी कम अवधि में ही आगरा मेट्रो रेल, ताज सिटी के जनजीवन में विश्वसनीय पब्लिक ट्रांसपोर्ट की उपलब्धता संबंधी समस्या का समाधान शुरू कर चुकी है। मेट्रो के 13 स्टेशनों वाले 14.25 कि मी लम्बे पहले कॉरीडोर 13 स्टेशनों में से ताज पूर्वी गेट, बसई, फतेहाबाद रोड (एलिवेटेड) और ताजमहल, आगरा फोर्ट व मनकामेश्वर भूमिगत स्टेशनों पर मेट्रो का संचालन शुरू हो चुका है। जबकि इस कॉरिडोर के एसएन मेडिकल कॉलेज, आगरा कॉलेज, राजा की मंडी और आरबीएस स्टेशन (सभी भूमिगत) के लिए सुरंग की खुदाई चल रही है। बाकी तीन आईएसबीटी, गुरु का ताल और सिकंदरा के लिए एलिवेटेड बनने हैं और इन सभी पर काम प्रगति पर है। संचालित स्टेशनों पर पर फुटफाल लगातार बढ़ रहा है। वह दिन दूर नहीं, जबकि अनेक ट्रैवलर और टूरिस्ट गाइडों में भी आगरा मेट्रो की यात्रा रिकमंडेड की जाने लगेगी।

बहुउद्देश्यीय लक्ष्य 
मेट्रो की जन स्वीकारिता करने के साथ ही बहुउद्देश्यीय लक्ष्यों की पूरक होने से महानगर की विशिष्ट पहचान के रूप में उभर रही है। मैट्रो पर सवार होकर वीआईपी क्षेत्र माने जाने वाले फतेहाबाद होटल कांप्लेक्स की दृश्यता का तो आनंद लिया ही जा सकता है। साथ ही ताजमहल, किले सहित कई अन्य ऐतिहासिक महत्व के भवनों का भी अवलोकन किया जा सकता है। पहले कॉरिडोर के अंतिम स्टेशन सिकंदरा मेट्रो स्टेशन पर भी कार्य शुरू हो चुका है। दो साल की अवधि में यह पूरा हो जायेगा। मेट्रो के दूसरे कॉरिडोर को आगरा कैंट से कालिंदी विहार तक बनाया जाएगा। कॉरिडोर की लंबाई 15.40 किमी (टू लाइन) किमी है। इसमें 15 स्टेशन शामिल होंगे, जो सभी एलिवेटेड हैं। अमृत विद्या एजुकेशन फार इम्मोर्टालिटी के प्रतिनिधिमंडल में राजीव खंडेलवाल, राजीव सक्सेना, अनिल शर्मा, असलम सलीमी और कांति नेगी थे।

Also Read

लोक अदालत में खिले चेहरे, 13 जोड़ों ने पहनाई  एक दूजे को वर माला

13 Jul 2024 09:11 PM

फिरोजाबाद Firozabad News : लोक अदालत में खिले चेहरे, 13 जोड़ों ने पहनाई एक दूजे को वर माला

जनपद न्यायालय में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन आज  न्यायालय परिसर में सुबह 10 बजे से शुरू किया गया। इस मौके पर 2.75 लाख वादों के निस्तारण का लक्ष्य रखा गया है... और पढ़ें