यमुना में बहेगी विकास की गंगा : शीघ्र शुरू होगा रिवर फ्रंट का काम, श्रद्धा के साथ मनोरंजन का संगम...

शीघ्र शुरू होगा रिवर फ्रंट का काम, श्रद्धा के साथ मनोरंजन का संगम...
UPT | Symbolic Image

Jul 11, 2024 11:19

यूपी सरकार ने मथुरा में विकास कार्यों पर लगातार जोर दे रही है। इस क्षेत्र में करोड़ों रुपए की लागत से विकास कार्यों की गंगा बहाई जा रही है। मथुरा के रिवर फ्रंट योजना के तहत 49 करोड़...

Jul 11, 2024 11:19

Mathura News : यूपी सरकार ने मथुरा में विकास कार्यों पर लगातार जोर दे रही है। इस क्षेत्र में करोड़ों रुपए की लागत से विकास कार्यों की गंगा बहाई जा रही है। मथुरा के रिवर फ्रंट योजना के तहत 49 करोड़ रुपए की लागत से महत्वपूर्ण विकास कार्यों को जल्द ही शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही यमुना फ्रंट योजना की टेंडर प्रक्रिया भी जल्द पूरी की जाएगी। जिससे इस क्षेत्र में विकास के नए मापदंड स्थापित किए जा सकेंगे।

देशी और अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों को मिलेगा बढ़ावा
मथुरा के वृंदावन में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं। इसके तहत मथुरा और वृंदावन के सौंदर्यीकरण के लिए कई योजनाएं शुरू की गई हैं। मथुरा में कंस टीले तक यमुना रिवर फ्रंट का कार्य किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए विशेष सुविधाएं संगठित की जाएंगी और स्थानीय लोगों को भी इसका फायदा होगा। मथुरा वृंदावन विकास प्राधिकरण के सीईओ एस.बी सिंह ने इस योजना के बारे में बताया कि इससे न केवल पर्यटकों को आकर्षित किया जाएगा, बल्कि स्थानीय आवासियों को भी नई सुविधाएं मिलेंगी। उन्होंने इस योजना के माध्यम से मथुरा को भी देशी और अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों के लिए एक प्रमुख गंगावतरण बनाने का लक्ष्य रखा है। इस संबंध में सीईओ ने जोर दिया कि यमुना रिवरफ्रंट योजना सभी आवश्यक पर्यावरणीय मंजरों का ध्यान रखते हुए विकसित की जा रही है, ताकि इसका पर्यावरणीय प्रभाव कम हो और स्थानीय जीवन को भी इसमें शामिल किया जा सके। उन्होंने यह भी बताया कि इस योजना में स्थानीय समुदाय के साथ-साथ सरकारी संगठनों का भी महत्वपूर्ण योगदान होगा।

करोंड़ो की लागत में बनेगा रिवर फ्रंट
इसके आगे सीईओ एस.बी सिंह ने बताया कि मथुरा एक धार्मिक नगरी के रूप में जानी जाती है। जहां हर दिन हजारों श्रद्धालुओं का आवागमन होता है। श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा को देखते हुए सरकार ने यमुना रिवर फ्रंट योजना को धरातल पर उतारने के लिए तैयारी की है। इस योजना के अंतर्गत लगभग 49 करोड़ रुपए की लागत से विभिन्न विकास कार्य किए जाएंगे। एस.बी सिंह ने इसके अलावा बताया कि सरकार ने मथुरा और वृंदावन को लेकर संपूर्ण जांच-परख और समीक्षा कर इसमें विकास की दिशा में महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।

रोजगार का मिलेगा मौका
सीईओ ने बताया है कि इस नई योजना के तहत लोगों को न केवल धार्मिक अनुभव में बेहतरीन सुविधाएं प्रदान मिलेंगी बल्कि उन्हें नई रोजगारी के अवसर भी मिलेंगे। इस योजना के अंतर्गत यात्रीगण को उनके आगमन के समय सुविधाजनक और आकर्षक घाटों का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। इसके साथ ही उन्हें जनरल सेवाओं की व्यापक सुविधा भी प्रदान की जाएगी। इस योजना के अनुसार श्रद्धालुओं को एक ही स्थान पर सभी आवश्यक खाने-पीने की सुविधाएं मिलेंगी, जिससे उनका समय बचेगा। इस प्रयास से न केवल धार्मिक यात्रीगणों को विशेष सुविधाएं मिलेंगी, बल्कि स्थानीय लोगों को भी नई रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। यह योजना समुदाय के साथ-साथ स्थानीय अर्थव्यवस्था को भी सशक्त बनाने का उद्देश्य रखती है।

इनका भी आनंद ले सकेंगे लोग
बता दें कि विकास प्राधिकरण के सीईओ ने बताया है कि करीब 20 घाटों का इस रिवर फ्रंट योजना के तहत विकास किया जाएगा। इसके तहत बंगाली घाट से लेकर कंस टीले तक जितने भी घाट हैं, सबका सौंदर्यीकरण कराया जाएगा। यहां आने वाले श्रद्धालु लाइट और साउंड का भरपूर आनंद ले सकेंगे।

Also Read

लोक अदालत में खिले चेहरे, 13 जोड़ों ने पहनाई  एक दूजे को वर माला

13 Jul 2024 09:11 PM

फिरोजाबाद Firozabad News : लोक अदालत में खिले चेहरे, 13 जोड़ों ने पहनाई एक दूजे को वर माला

जनपद न्यायालय में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन आज  न्यायालय परिसर में सुबह 10 बजे से शुरू किया गया। इस मौके पर 2.75 लाख वादों के निस्तारण का लक्ष्य रखा गया है... और पढ़ें