अयोध्या का विकास तेज : चार प्रवेश द्वार में से 2 का‍ निर्माण शुरू, रिंग रोड के लिए जमीन अधिग्रहण, कुंडों और मठ-मंदिरों का जीर्णोद्धार

चार प्रवेश द्वार में से 2 का‍ निर्माण शुरू, रिंग रोड के लिए जमीन अधिग्रहण, कुंडों और मठ-मंदिरों का जीर्णोद्धार
UPT | प्रवेश द्वार

Jul 11, 2024 14:19

शहर के चार प्रमुख प्रवेश द्वारों के निर्माण की योजना को हरी झंडी मिल गई है, जिसमें से दो पर कार्य आरंभ हो चुका है। इसके अतिरिक्त, रिंग रोड के निर्माण के लिए 95 प्रतिशत भूमि का अधिग्रहण पूरा हो चुका है...

Jul 11, 2024 14:19

Ayodhya News : अयोध्या नगरी में विकास की गति तेज हो गई है। लोकसभा चुनाव के बाद, शहर के रूपांतरण के लिए चल रही परियोजनाओं को पूरा करने का प्रयास तीव्र किया गया है। लगभग 30,000 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाएं प्रगति पर हैं, जिनमें से कुछ पूर्ण हो चुकी हैं, जबकि अन्य पर कार्य जोरों पर चल रहा है।

चार प्रवेश द्वार में से 2 का‍ निर्माण शुरू
शहर के चार प्रमुख प्रवेश द्वारों के निर्माण की योजना को हरी झंडी मिल गई है, जिसमें से दो पर कार्य आरंभ हो चुका है। इसके अतिरिक्त, रिंग रोड के निर्माण के लिए 95 प्रतिशत भूमि का अधिग्रहण पूरा हो चुका है, जिससे जल्दी ही इसका निर्माण कार्य शुरू होने की संभावना है। यह परियोजना न केवल यातायात की समस्या को हल करेगी, बल्कि आस-पास के क्षेत्रों के विकास को भी गति प्रदान करेगी।



एयर पोर्ट के दूसरे और तीसरे चरण का निर्माण
अयोध्या के विमानक्षेत्र के विस्तार की योजना भी प्रगति पर है। प्रथम चरण के सफल संचालन के बाद, अब द्वितीय और तृतीय चरण के निर्माण की तैयारियां चल रही हैं। इसके पूरा होने पर, यहां से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का संचालन संभव हो सकेगा, जो शहर के पर्यटन और आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

कुंडों और मठ-मंदिरों का जीर्णोद्धार
शहर के सांस्कृतिक और धार्मिक महत्व को ध्यान में रखते हुए, 30 पौराणिक कुंडों और 37 मठ-मंदिरों के जीर्णोद्धार का कार्य चल रहा है। इन स्थलों को आधुनिक पर्यटन केंद्रों के रूप में विकसित किया जा रहा है, जैसा कि सूर्यकुंड, विद्या कुंड और दशरथ कुंड के साथ किया गया है। इसके अतिरिक्त, अयोध्या के धार्मिक ग्रंथों में वर्णित 148 पवित्र स्थलों में से चयनित स्थलों को विशेष रूप से पर्यटन के दृष्टिकोण से विकसित किया जा रहा है। साथ ही कई प्राचीन भवनों और मंदिरों का नवीनीकरण किया जा रहा है। इनमें अवध के नवाब का दिलकुशा महल भी शामिल है। 

विभिन्न कॉरिडोर का निर्माण जारी
अयोध्या में पर्यटकों की सुविधा के लिए विभिन्न कॉरिडोर का निर्माण भी किया जा रहा है। राम पथ, भक्ति पथ, राम जन्मभूमि पथ और धर्म पथ का निर्माण पूरा हो चुका है, जबकि सुग्रीव कॉरिडोर पर काम तेजी से चल रहा है। इसके अलावा, 14 कोसी और 5 कोसी परिक्रमा मार्गों के चौड़ीकरण का कार्य भी प्रगति पर है।

Also Read

घाघरा सरयू नदी का जलस्तर बढ़ने से बाढ़ का खतरा, अलर्ट मोड पर प्रशासन...  

20 Jul 2024 02:32 PM

बाराबंकी Barabanki News : घाघरा सरयू नदी का जलस्तर बढ़ने से बाढ़ का खतरा, अलर्ट मोड पर प्रशासन...  

बाराबंकी जिले में सरयू नदी में नेपाल से लगातार छोड़े जा रहे पानी से तराई क्षेत्रों में लोगों का जनजीवन प्रभावित हो रहा है। सरयू के घटते बढ़ते जलस्तर के कारण नदी किनारे बसे गांवों के लोगों में दहशत का... और पढ़ें