advertisements
advertisements

Loksabha Elections-2024 : मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा-यह इलेक्शन देश के भविष्य को बचाने का चुनाव है

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा-यह इलेक्शन देश के भविष्य को बचाने का चुनाव है
UPT | कांग्रेस अध्यक्ष ने जनसभा को संबोधित किया।

May 16, 2024 01:10

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी गरीबों के लिए लड़ रहे हैं, आदिवासियों के लिए लड़ रहे हैं, दलितों के लिए लड़ रहे हैं, पिछड़ों के लिए लड़ रहे हैं। उनके घर के हर व्यक्ति ने इस देश के लिए कुर्बानी दी है।

May 16, 2024 01:10

Raebareli News : कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने बुधवार को हरचंदपुर रायबरेली में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि ये चुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण है। यह कोई छोटा चुनाव नहीं है। यह कोई एमएलए का इलेक्शन नहीं, ये जिला पंचायत का इलेक्शन नहीं है। यह देश के भविष्य को बनाने का चुनाव है और इस देश के दलित, पिछड़े, आदिवासी, गरीब, किसान इनको बढ़ाने का चुनाव है। अगर इसमें कोई भूल हो गई तो समझो फिर मनु इस देश में पैदा होगा और मनुस्मृति का राज चलेगा। संविधान का राज बंद होगा। इसीलिए हमारे युवा नेता रायबरेली से चुनाव लड़ रहे हैं। वे गरीबों से हमदर्दी रखने वाले हैं, वह कभी किसी के लिए बुरा नहीं चाहते हैं जैसा कि पीएम मोदी हमेशा दूसरों के लिए श्राप देते रहते हैं। लेकिन गरीबों के लिए लड़ने वाला एक मात्र नेता राहुल गांधी हैं, जो कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक पैदल चले। 

सत्ता के लिए चुनाव नहीं लड़ रहा गांधी परिवार
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी गरीबों के लिए लड़ रहे हैं, आदिवासियों के लिए लड़ रहे हैं, दलितों के लिए लड़ रहे हैं, पिछड़ों के लिए लड़ रहे हैं। उनके घर के हर व्यक्ति ने इस देश के लिए कुर्बानी दी है। रायबरेली तो इनका घर है। इससे पहले इंदिरा गांधी, फिरोज गांधी, सोनिया गांधी की कर्मभूमि रही और अब यहीं से आप राहुल को अपना मार्गदर्शन देंगे। मल्लिकार्जुन ने कहा कि गांधी परिवार सत्ता के लिए नहीं लड़ रहा है। सोनिया गांधी को प्रधानमंत्री बनने के बात हुई तब सोनिया गांधी ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहती हूं। देश की सेवा करना चाहती हूं लोगों की सेवा करना चाहती हूं, आप लोग जो परेशानी में हैं उनकी मदद करना चाहती हूं। इसीलिए उन्होंने प्रधानमंत्री का पद ठुकरा दिया और मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री बना दिया। आज के समय में सत्ता के लिए झगड़ने वाले नेता हैं।

पूरे देश में रायबरेली की पहचान
उन्होंने कहा कि 2009 में यूपीए को जब मेजोरिटी मिली थी उसे समय भी सोनिया गांधी को सभी लोगों ने कहा कि आप प्रधानमंत्री बनिए, सोनिया गांधी ने जो इस देश को आर्थिक स्थिति में आगे लाने वाले मनमोहन सिंह को दोबारा प्रधानमंत्री बनाया, इसको कहते हैं त्याग। उनके परिवार में दो बलिदान भी हुए।  देश को एक रखने के लिए इंदिरा गांधी जी ने 32 गोलियां अपने छाती पर खाई और वह शहीद हो गईं। ऐसे तो इस देश के लिए पंडित जवाहरलाल नेहरू ने 98% अपनी संपत्ति समर्पित कर दी और ये लोग उन पर सवाल उठाते हैं, मुझे हंसी आती है।  जिसनें देश को बचाने के लिए अपनी जान दे दी, पीएम मोदी उन्हीं पर टीका टिप्पणी करते हैं। राजीव गांधी ने देश को एक रखने के लिए कोशिश की, लेकिन वह भी देश की सेवा करते-करते शहीद हो गए। ऐसे लोगों की रायबरेली में रायबरेली के परिवार के सदस्य के रूप में सेवा की, जिससे रायबरेली की पहचान पूरे देश में  है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि 53 साल से चुन के आ रहा हूं। 72 से लेकर अब तक पॉलिटिक्स में जिंदा हूं इसलिए जिंदा हूं, कांग्रेस की वजह से जिंदा हूं। 
 

Also Read

छठे चरण के लिए आज डाले जाएंगे वोट, 14 सीटों के लिए 162 उम्मीदवार चुनावी मैदान में ठोक रहे हैं ताल 

25 May 2024 03:12 AM

लखनऊ Loksabha Elections-2024 : छठे चरण के लिए आज डाले जाएंगे वोट, 14 सीटों के लिए 162 उम्मीदवार चुनावी मैदान में ठोक रहे हैं ताल 

छठे चरण में 14 लोकसभा सीटों पर कई दिग्गज मैदान में हैं। इनमें सुल्तानपुर सीट से भाजपा की ओर से मेनका गांधी उम्मीदवार हैं। वहीं आजमगढ़ में सपा के धर्मेंद्र यादव और भाजपा प्रत्याशी भोजपुरी फिल्म स्टर दिनेश लाल निरहुआ के बीच रोचक मुकाबला है। और पढ़ें