योगी सरकार की पहल : 12 बस टर्मिनलों के निर्माण और नवीनीकरण की प्रक्रिया शुरू, इन शहरों को मिलेंगी 5000 इलेक्ट्रिक बसें

12 बस टर्मिनलों के निर्माण और नवीनीकरण की प्रक्रिया शुरू, इन शहरों को मिलेंगी 5000 इलेक्ट्रिक बसें
UPT | योगी आदित्यनाथ

Jun 11, 2024 16:19

उत्तर प्रदेश को प्रगति के पथ पर निरंतर अग्रसर रखने की दिशा में कार्यरत योगी सरकार ने प्रदेश में नई शक्ति के साथ लंबित परियोजनाओं पर कार्य करना शुरू कर दिया...

Jun 11, 2024 16:19

Bulandshahr News : उत्तर प्रदेश को प्रगति के पथ पर निरंतर अग्रसर रखने की दिशा में कार्यरत योगी सरकार ने प्रदेश में नई शक्ति के साथ लंबित परियोजनाओं पर कार्य करना शुरू कर दिया है। इस क्रम में सीएम योगी की मंशा अनुरूप प्रदेश में परिवहन सेवाओं को और उन्नत व जनसुलभ बनाने की दिशा में उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (यूपीएसआरटीसी) कार्ययोजनाओं को क्रियान्वित करना शुरू कर दिया है।

इन जिलों में दौड़ेंगी आधुनिक बस 
इन बस टर्मिनलों को कमर्शियल कॉम्प्लेक्स के रूप में भी विकसित किया जाएगा ताकि वाणिज्यिक गतिविधियों से राजस्व अर्जित किया जा सके। आगरा, गोरखपुर, मीरजापुर, बुलंदशहर, गढ़मुक्तेशवर, मथुरा, कानपुर सेंट्रल और वाराणसी कैंट समेत कई शहरों में नए बस टर्मिनल बनेंगे। मथुरा में पुराने बस अड्डे का भी नवीनीकरण होगा। इन नए और आधुनिक बस टर्मिनलों से यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मिलेंगी। साथ ही यूपीएसआरटीसी की आय में भी इज़ाफा होगा।

मथुरा में पुराने बस अड्डे का होगा नवीनीकरण
नागरिक सुविधाओं में इजाफा को लक्षित कर योगी सरकार की मंशा के अनुरूप यूपीएसआरटीसी ने 12 बस टर्मिनल कम कमर्शियल कॉम्प्लेक्स के निर्माण व मेकओवर की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इस क्रम में, आगरा के ईदगाह व ट्रांसपोर्ट नगर, गाजियााबाद के साहिबाबाद, गोरखपुर, मीरजापुर, बुलंदशहर, बरेली, गढ़ मुक्तेश्वर, अलीगढ़ के रसूलाबाद, वाराणसी कैण्ट, कानपुर सेंट्रल में 12 बस टर्मिनल कम कमर्शियल कॉम्प्लेक्स के निर्माण तथा मथुरा में पुराने बस अड्डे के नवीनीकरण की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इन सभी स्थानों पर नागरिक सुविधाओं के विकास के साथ ही इन्हें कमर्शियल स्पेसेस में कन्वर्ट कर इनके जरिए रेवेन्यू जेनरेशन के मॉडल पर भी फोकस किया जा रहा है। इससे न केवल यहां से यात्रा करने वाले यात्रियों को आधुनिक सुविधाओं का लाभ मिलेगा बल्कि यूपीएसआरटीसी की आय बढ़ने में भी मदद मिलेगी। उल्लेखनीय है कि यह सभी कार्य उस विस्तृत कार्ययोजना का हिस्सा हैं जिसे सीएम योगी के मार्गदर्शन में निर्मित किया गया था और अब उनकी मंशा अनुरूप ही इस दिशा में कार्य को आगे बढ़ाया जा रहा है।

50,000 बसों का बेड़ा तैयार 
यूपीएसआरटीसी द्वारा वर्तमान में 5000 इलेक्ट्रिक बसों की आपूर्ति, संचालन और रखरखाव की प्रक्रिया को लेकर निविदा प्रक्रिया एक बार फिर शुरू की गई है। 14 जून से ये प्रक्रिया शुरू होगी। उल्लेखनीय है कि आधुनिक इलेक्ट्रिक बसों का संचालन सार्वजनिक परिवहन में क्रांति लाने की निगम की योजना के पहले चरण को चिह्नित करती है। राज्य के परिवहन नेटवर्क को विस्तारित करने की दीर्घकालिक रणनीति के तौर पर 50,000 बसों के बेड़े को शामिल करने की प्रक्रिया शुरू की गई है जो कि आगामी वर्षों में पूरा हो जाएगा।

Also Read

सात साल का मासूम बेटा पिता और मां की लाश के साथ पहुंचा घर तो दादा-दादी हुए बेहोश

14 Jun 2024 09:55 PM

मेरठ Meerut News : सात साल का मासूम बेटा पिता और मां की लाश के साथ पहुंचा घर तो दादा-दादी हुए बेहोश

परिजनों को संभालने के लिए रिश्तेदार मौजूद थे लेकिन माहौल देखकर उनका भी धैर्य टूट गया और वो भी दहाड़े मारकर रोने लगे। कृष्ण अवतार गोयल का बेटा, बहू और पोता तिरुपति बालाजी दर्शन के लिए गए थे। और पढ़ें