छह गुना कमाई का लालच देकर ठगे 70 लाख रुपये : मनी लांड्रिंग का डर दिखाकर हड़प लिए इतने रुपये

मनी लांड्रिंग का डर दिखाकर हड़प लिए इतने रुपये
UPT | गाजियाबाद।

Jul 11, 2024 01:42

जब युवक ने एप से रुपये निकालने का प्रयास किया। जब एप से रुपये नहीं निकले तो उसको ठगी का एहसास हुआ। उनका कहना है कि उन्हें एक व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ा गया।

Jul 11, 2024 01:42

Short Highlights
  • युवक को मॉस्को ड्रग्स भेजने का झांसा देकर फंसाया
  • 25 खाते और मनी लांड्रिंग होने की बात कहकर डराया 
  • गाजियाबाद में लगातार बढ़ रही ठगी के पीड़ितों की संख्या  
Ghaziabad News : गाजियाबाद जिले में ठगी के पीड़ितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। कहीं कई गुना कमाई का लालच देकर ठगी की जा रही है तो कहीं मनी लांड्रिंग का डर दिखाकर साइबर ठगी हो रही है। 

छह गुना कमाई का लालच देकर 70 लाख रुपये की ठगी
गाजियाबाद के शास्त्री नगर के रहने वाली उमेश कुमार सिंह से साइबर ठगों ने अमेरिकन कंपनी में निवेश कर छह गुना कमाई का लालच देकर 70 लाख रुपये की ठगी कर ली है। जब युवक ने एप से रुपये निकालने का प्रयास किया। जब एप से रुपये नहीं निकले तो उसको ठगी का एहसास हुआ। उनका कहना है कि उन्हें एक व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ा गया। जिसमें बताया गया कि ग्रुप एक अमेरिकन कंपनी का है। इसमें इंटरनेशनल स्तर पर शेयर के साथ कंपनी के आईपीओ दिलवा सकते हैं। जिसमें छह गुना तक मुनाफा होगा। युवक ने विश्वास करके उन्होंने एक महीने में 38 ट्रांजेक्शन कर ठगों द्वारा बताए गए खातों में 70 लाख रुपये ट्रांसफर कर दिए। पीड़ित का कहना है कि उनके पास करीब 10 लाख रुपये थे।

मकान बनाने के लिए 17 लाख रुपये के लोन इसी में लगा दिया
जब 10 लाख निवेश कर दिए तो उस रकम को बचाने के लिए उन्होंने मकान बनाने के लिए 17 लाख रुपये के लोन को इसी में लगा दिया। इसी के साथ बाद में अपने दोस्तों समेत अन्य लोगों से रुपये लेकर निवेश कर दिए। उन्होंने जब रुपये निकालने का प्रयास किया तो शातिरों ने उन्हें 25 फीसदी टैक्स और 20 फीसदी उनका कमीशन देकर रुपये निकालने के लिए कहा। जिसके बाद उन्हें ठगी का एहसास हुआ तो साइबर अपराध थाने में मुकदमा दर्ज कराया। एडीसीपी अपराध सच्चिदानंद ने बताया कि दोनों मामलों ने ठगी गई रकम को फ्रीज कराने के लिए टीम लगाई गई हैं। जिन खातों में रकम गई है उनकी भी जानकारी निकलवाई जा रही हैं।

पीड़ित ने साइबर अपराध थाने में मुकदमा दर्ज कराया 
साइबर अपराधियों ने जिले के वसुंधरा निवासी एक एक युवक को डिजिटल अरेस्ट करके 5.90 लाख रुपये ठग लिए हैं। ठगों ने युवक के नाम से मास्को ड्रग्स भेजने और नवाब मलिक नामक व्यक्ति के साथ मनी लांड्रिंग करने का डर दिखाकर ठगी की। पीड़ित ने साइबर अपराध थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। वसुंधरा के रहने वाले युवक के मुताबिक उनके पास एक कोरियर कंपनी के नाम से कॉल आया। जिसमें उनके आधार डिटेल के साथ ड्रग्स विदेश भेजने की बात कही। इसके बाद कॉलर ने मामले में मुंबई पुलिस के एक अधिकारी से बात कराई।

एक घंटे तक डिजिटल अरेस्ट करके रखा
आरोप है कि कथित मुंबई पुलिसकर्मी ने एक एप इंस्टॉल कराकर उन्हें करीब एक घंटे तक डिजिटल अरेस्ट करके रखा और बताया कि उनके नाम से 25 बैंक खाते हैं। जिसमें वह नवाब मलिक नाम के व्यक्ति के साथ मनी लॉन्ड्रिंग कर रहे हैं। इसके सबूत उनके पास हैं। बाद उन्होंने जांच के नाम पर 5.90 लाख रुपये ट्रांसफर करा लिए। ठगी का एहसास होने पर पुलिस से शिकायत की। 

Also Read

भूमाफिया की पत्नी पर प्रशासन की बड़ी कार्रवाई, 4 करोड़ से अधिक की संपत्ति की कुर्क

20 Jul 2024 07:04 PM

बुलंदशहर Bulandshahar News : भूमाफिया की पत्नी पर प्रशासन की बड़ी कार्रवाई, 4 करोड़ से अधिक की संपत्ति की कुर्क

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में गैंगस्टर के खिलाफ पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। गैंगस्टर एक्ट में भूमाफिया सुधीर गोयल की पत्नी राखी गोयल की 4.14 करोड़ की संपत्ति कुर्क की है। और पढ़ें