Prayagraj News : कंपनी बनाकर 100 करोड़ की ठगी, 8 साथियों के साथ कई राज्यों में खोली थीं शाखाएं

कंपनी बनाकर 100 करोड़ की ठगी, 8 साथियों के साथ कई राज्यों में खोली थीं शाखाएं
UPT | पुलिस की गिरफ्त में ठगी का आरोपी।

Jul 11, 2024 13:13

प्रयागराज एसटीएफ की टीम ने 100 करोड़ की ठगी करने वाले ज्ञानेश पाठक को मुंबई में धर दबोचा। एसटीएफ की पूछताछ में शातिर ठग ने ठगी करने के तरीके बताये, जिसे सुनकर एसटीएफ भी चकरा गई। एसटीएफ...

Jul 11, 2024 13:13

Short Highlights
  • 2012 में 8 साथियों के साथ मिलकर जेकेवी मल्टीस्टेट क्रेडिट कंपनी शुरू की। 
  • आरोपी में बरेली और उत्तराखंड में घोषित है पुरस्कार

 

Prayagraj News : प्रयागराज एसटीएफ की टीम ने 100 करोड़ की ठगी करने वाले ज्ञानेश पाठक को मुंबई में धर दबोचा। एसटीएफ की पूछताछ में शातिर ठग ने ठगी करने के तरीके बताये, जिसे सुनकर एसटीएफ भी चकरा गई। एसटीएफ ने गिरफ्तार आरोपी को कोर्ट में प्रस्तुत कर ट्रांजिट रिमांड पर लेकर पूछताछ में जुटी है। 

एसटीएफ ने मुंबई से दबोचा
यूपी एसटीएफ को कई महीने से फरार चल रहे इनामी अपराधियों के सक्रिय गिरोह के आपराधिक घटनाएं को अंजाम देने की सूचनाएं मिल रही थीं। प्रयागराज की एसटीएफ टीम द्वारा बरेली, उत्तराखण्ड राज्य में वांछित अभियुक्त ज्ञानेश पाठक की गिरफ्तारी के लिए जानकारी जुटाई जा रही थीं। पाठक पर बरेली से 25 हजार और उत्तराखण्ड से 50 हजार रुपये के पुरस्कार घोषित किया गया था। इस दौरान पता चला कि अभियुक्त ज्ञानेश पाठक महाराष्ट्र के जनपद नागपुर क्षेत्र में कहीं छिपकर रह रहा है। इस सूचना पर उपनिरीक्षक रणेन्द्र कुमार सिंह, मुख्य आरक्षी अमित कुमार शर्मा, सन्तोष कुमार, आरक्षी किशन व आरक्षी चालक अखण्ड प्रताप पाण्डेय की एक टीम गठित कर मुम्बई रवाना किया गया।

एसटीएफ ने नागपुर से किया गिरफ्तार
एसटीएफ टीम ने नागपुर से अभियुक्त ज्ञानेश पाठक को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्त ने पूछताछ पर बताया कि वह ग्राम ततारगंज थाना घूरपुर जनपद प्रयागराज का निवासी है। उसका धोखाधड़ी एवं ठगी करने का एक सकिय गिरोह है। वर्ष 2012 में वह अपने 8 साथियों के साथ मिलकर जेकेवी मल्टीस्टेट क्रेडिट कोआपरेटिव सोसायटी लिमिटेड व जेकेवी रियल एस्टेट डेवलपर लिमिटेड के नाम से पंजीकरण कराया था। जिसका कार्यालय लखनऊ में बनाया और सोसायटी के अध्यक्ष पद पर नियुक्त हुआ। अभियुक्त व उसके साथियों द्वारा धन को दोगुना करने का झांसा देकर आम जनता से पैसा जमा कराया जाता था। सोसायटी की राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड, बिहार आदि राज्यों में सौ से अधिक शाखाएं थीं। 

एक साल में 25 करोड़ का भुगतान किया 
वर्ष 2018-19 में व्यक्तियों के पैसों का भुगतान करीब 20 से 25 करोड़ किया, परन्तु वर्ष 2019-20 से सोसायटी के किसी भी सदस्यों द्वारा पैसों का भुगतान नहीं किया गया और उनका पैसा गबन कर लिया गया। व्यक्तियों को झूठा आश्वासन दिया जाता रहा कि आप लोगों का पैसा वापस कर दिया जायेगा, लेकिन किसी भी व्यक्ति को पैसा वापस नहीं किया। सोसायटी द्वारा लगभग 100 करोड़ रुपये का गबन कर लिया गया। उसके सभी सदस्य रूपये लेकर फरार हो गये। इस ठगी के खिलाफ उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड व अन्य राज्यों के विभिन्न जनपदों, थानों पर पीड़ित व्यक्तियों द्वारा अभियोग पंजीकृत कराया गया। 

Also Read

उदय प्रताप सिंह का हुआ हाउस अरेस्ट तो भड़क गईं राजा भैया की पत्नी भानवी सिंह, कहा- मोहर्रम के पहले ये करना उचित नहीं

17 Jul 2024 11:37 PM

प्रतापगढ़ Pratapgarh News : उदय प्रताप सिंह का हुआ हाउस अरेस्ट तो भड़क गईं राजा भैया की पत्नी भानवी सिंह, कहा- मोहर्रम के पहले ये करना उचित नहीं

यूपी के प्रतापगढ़ जिले की कुंडा सीट से विधायक और जिले में अलग ही पहचान बनाने वाले बाहुबली नेता राजा भैया हमेशा सुर्खियों में बने रहते हैं। राजा भैया के पिता उदय प्रताप सिंह को हाउस अरेस्ट कर दिया गया है... और पढ़ें