advertisements
advertisements

आगरा में सियासी अखाड़ा : फतेहपुर सीकरी से लोकसभा प्रत्याशी राजकुमार के खिलाफ खुलकर सामने आए विधायक चौधरी बाबूलाल

फतेहपुर सीकरी से लोकसभा प्रत्याशी राजकुमार के खिलाफ खुलकर सामने आए विधायक चौधरी बाबूलाल
UPT | किरावली के महाविद्यालय में महापंचायत

Apr 03, 2024 00:05

देश में 400 पार का नारा देने वाली भाजपा आखिर 400 सीटों किस तरह जीत कर पूरा करेगी जब उसके अपने ही बगावत पर उतर रहे हैं, आगरा में भी फतेहपुर सीकरी लोकसभा सीट पर सिटिंग विधायक चौधरी बाबूलाल और उनके बेटे बगावत पर उतर आए हैं, उन्होंने भाजपा प्रत्याशी के खिलाफ खुली बगावत कर दी है जिससे भाजपा की चिंतायें बढ़ गई हैं...

Apr 03, 2024 00:05

Agra News : आगरा जनपद की फतेहपुर सीकरी लोकसभा क्षेत्र में भाजपा विधायक चौधरी बाबूलाल के बेटे ने बगावत कर दी है। चौधरी रामेश्वर की बगावत से जहां भाजपा के लिए मुसीबतें खड़ी होती दिखाई हो रही हैं, वहीं देहात क्षेत्र में भाजपा प्रत्याशी राजकुमार चाहर के खिलाफ विरोध के स्वर भी दिखाई दे रहे हैं। 
 
आगरा की फतेहपुर सीकरी विधानसभा से भाजपा विधायक चौधरी बाबूलाल एक कद्दावर नेता हैं। बाबूलाल फतेहपुर सीकरी विधानसभा से अपने दम पर निर्दलीय चुनाव जीत चुके हैं, एक बार फिर वह बेटे के मोह में बगावत पर आ गए हैं। मंगलवार को किरावली के एक महाविद्यालय में महापंचायत आयोजित की गई। विधायक चौधरी बाबूलाल ने भाजपा प्रत्याशी राजकुमार चाहर के खिलाफ खुली बगावत का एलान कर दिया। अभी तक विधायक बाबूलाल फ्रंट पर नहीं आए थे लेकिन मंगलवार को सिटिंग विधायक चौधरी बाबूलाल सामने ही नहीं आए बल्कि खुलेआम भाजपा प्रत्याशी राजकुमार चाहर के खिलाफ अपने बेटे रामेश्वर चौधरी को निर्दलीय चुनाव लड़ाने का ऐलान कर दिया। हजारों की भीड़ में उन्होंने कहा कि अगर भाजपा प्रत्याशी बदलती है तो वह भी पीछे हटने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि मैं भाजपा का सिपाही हूँ, भाजपा के साथ खड़ा हूँ। वहीं विधायक बाबूलाल ने कहा कि यह व्यक्तिगत युद्ध है, जो जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि यह फैसला मेरा व्यक्तिगत नहीं बल्कि पंचायत द्वारा दिया गया निर्णय है। उन्होंने कहा कि चुनाव जीतना और हारना जनता के ऊपर है और यहां पर उमड़ा जन समूह बता रहा है कि जनता किसके साथ है। 
 
भाजपा विधायक बाबूलाल के बेटे चौधरी रामेश्वर ने कहा कि 6 मार्च को महापंचायत आयोजित की गई थी, जिसमें निर्णय लिया गया था कि चुनाव लड़ने को लेकर सर्वे किया जाएगा और उसके बाद जो पंचायत होगी उसमें जो भी निर्णय होगा वह स्वीकार होगा। आज मंगलवार को महापंचायत में जनता जनार्दन ने निर्णय लिया है कि मैं रामेश्वर सिंह निर्दलीय चुनाव लडू। मैं जनता के निर्णय को स्वीकार करता हूं, और जनता के आदेश पर निर्दलीय पर्चा भरूंगा। चौधरी रामेश्वर ने कहा कि जिस तरह भरत जी ने प्रभु श्रीराम की खड़ाऊ लेकर शासन किया था, मैं भी उसी तरह जनता की खड़ाऊ लेकर घर घर जाकर दस्तक दूंगा और उनका आशीर्वाद लूंगा। 
 
बगावती सुर अपनाने वाले रामेश्वर चौधरी ने कहा कि मेरा या जनता का विरोध और आक्रोश सूबे के मुखिया या देश के मुखिया के खिलाफ नहीं है बल्कि प्रत्याशी के खिलाफ है। रामेश्वर ने कहा कि उन्होंने भाजपा को प्रत्याशी बदलने का पूरा मौका दिया, भाजपा के पास अभी भी नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख तक अवसर है। उन्होंने कहा कि अगर भाजपा अपना प्रत्याशी बदलता है तो अपना नामांकन वापस लेते हुए वह खुद घर-घर जाकर भाजपा के लिए वोट मांगेंगे। 
 
उन्होंने जनता को महा पंचायत में सम्बोधित करते हुए कहा कि रामेश्वर को चुनाव जिताना या साथ देना आप का सभी का काम है। आप सभी रामेश्वर चौधरी और बाबूलाल चौधरी बनकर चुनाव लड़ेंगे और वोट मांगकर जिताने का काम करेंगे। रामेश्वर चौधरी ने कहा कि हमने भाजपा का सिपाही होने के नाते पार्टी से टिकट मांगी थी। हम किसी पार्टी के खिलाफ नहीं लड़ रहे प्रत्याशी के खिलाफ लड़ रहे हैं। अब यह फैसला आप को करना है कि किसको जिताना है और किसको हराना है। 
 

Also Read

आगरा जिले की दोनों लोकसभा सीटों पर अब 21 प्रत्याशी आजमाएंगे भाग्य, 7 मई को होगा मतदान 

21 Apr 2024 12:32 AM

आगरा Loksabha Elections-2024 : आगरा जिले की दोनों लोकसभा सीटों पर अब 21 प्रत्याशी आजमाएंगे भाग्य, 7 मई को होगा मतदान 

शनिवार को जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा संवीक्षा की गई। जिसमें जनपद की दोनों लोकसभा में 21 नामांकन पत्र स्वीकार किए गए एवं इस दौरान जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा 9 प्रत्याशियों के नामांकनों को अस्वीकार कर दिया गया।  और पढ़ें