Bareilly News : सीएम योगी के आदेश की नाफरमानी, चीफ इंजीनियर कर रहे हैं मनमानी, आधे शहर की बिजली गुल

सीएम योगी के आदेश की नाफरमानी, चीफ इंजीनियर कर रहे हैं मनमानी, आधे शहर की बिजली गुल
फ़ाइल फोटो | फाइल फोटो

Jul 10, 2024 13:26

यूपी के शहरों में 24 घंटे बिजली मिले। यूपी के प्रमुख सचिव ने अफसरों को सीएम की मंशा से भी अवगत कराया है। मगर, बरेली के अफसरों की मनमानी के चलते सीएम योगी आदित्यनाथ के फरमान की नाफरमानी हो रही है। बिजली कटौती से लोग बेहाल हैं।

Jul 10, 2024 13:26

Bareilly News : सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने शहर से लेकर देहात तक समय से बिजली आपूर्ति देने के निर्देश दिए हैं। उनकी कोशिश है कि यूपी के शहरों में 24 घंटे बिजली मिले। यूपी के प्रमुख सचिव ने अफसरों को सीएम की मंशा से भी अवगत कराया है। मगर, बरेली के अफसरों की मनमानी के चलते सीएम योगी आदित्यनाथ के फरमान की नाफरमानी हो रही है। बिजली कटौती से लोग बेहाल हैं। हालांकि, बारिश के कारण तापमान में कमी आई है। मगर, इसके बाद भी बारिश के रुकते ही लोग पसीने से तरबतर होने लगते हैं। इंडस्ट्रियल एरिया की फैक्ट्रियां बिजली कटौती से हांफने लगी हैं। जनरेटर धुंआ उगल रहे हैं। रोज मीटिंग दर मीटिंग हो रही हैं। वीडियो कांफ्रेंसिंग हो रही हैं। मगर नतीजा नहीं निकल रहा। सवालों के घेरे में बिजली वाले चीफ इंजीनियर हैं। जिनको लेकर कई तरह के और हर तरह के सवाल उठ रहे हैं। मगर, वह भी शायद इन सवालों को शिद्दत से हल करने के बजाय बारिश का मानसून का मजा ले रहे हैं।

बुधवार को सुबह से ही कई इलाकों की बिजली आपूर्ति ठप हो गई। बिजली लाइनमैन से लेकर सब स्टेशन और अफसरों के फोन पर लोग शिकायत करते रहे, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं था। हालांकि, बताया जा रहा है कि विभाग के आलाकमान ने पेंच कसे हैं। एसी कमरों से बाहर निकलने को कहा है।

लो वोल्टेज से दिक्कत
शहर के रामपुर रोड की आनंद विहार कॉलोनी, जागृति नगर कालोनी, स्वालेनगर, रजा कालोनी,महेशपुर, अर्बन कालोनी, विधौलिया आदि में मंगलवार रात लो वोल्टेज की समस्या बनी रही। यहां के लोगों ने काफी शिकायत की। मगर, किसी ने कोई नहीं सुना। लो वोल्टेज में एसी तो दूर पंखे भी नहीं चले।
 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ये दी थी हिदायत
पिछले दिनों तेज जर्मी के मौसम के बीच बिजली अफसरों के पेंच को कसे थे। उन्होंने कहा है कि कहीं भी अनावश्यक बिजली कटौती नहीं हो। ट्रांसफार्मर के खराब होने और ट्रिपिंग जैसी समस्या तुरंत हल हो। अफसर फोन उठाएं। जनता और जनप्रतिनिधियों की आवाज को सुना जाए। बताया जाता है कि मुख्यमंत्री के बिजली विभाग को निशाने पर लेने के साथ ही प्रमुख सचिव ऊर्जा नरेन्द्र भूषण ने भी अपने अफसरों को जमकर लताड़ा। बरेली को लेकर भी नाराजगी जताई गई है। 
विश्वसनीय सूत्रों की मानें तो चीफ इंजीनियर रणविजय सिंह से कहा गया है कि एसी रूम से बाहर निकलकर जमीन के हालात देखें। ट्रांसफार्रमर जलने, बिजली के तार टूटने, लो वोल्टेज, ट्रिपिंग आदि समस्याओं का जल्द से जल्द निराकरण हो। बिजली चोरी रोकने को सघन चैकिंग अभियान चले। कर्मचारी, अधिकारी व्यवहार, कार्यशैली में सुधार करें।जनप्रतिनिधियों से संवाद हो। हालांकि, चीफ इंजीनियर ने व्यवस्था सुधार को लेकर अभी तक क्या किया है, ऐसा कोई काम या कार्ययोजना अभी तक सार्वजनिक रूप से सामने नहीं आ सकी है। जिसको लेकर उन पर भी सवालिया निशान हैं। विभाग के सूत्रों का कहना है कि पिछले दिनों जिलाधिकारी की जनप्रतिनिधियों के साथ हुई बैठक में भी बिजली विभाग पर कई गंभीर सवाल उठे थे। शिकायतों का पुलिंदा खोला गया था शिकायतों पर ही पहले फरीदपुर के एक्सीएन हटाये गए थे। विभाग की मॉनिटरिंग से जुड़े सूत्र बता रहे हैं कि कुछ एसडीओ भी निशाने पर हैं, अगर स्थिति नहीं बदली तब उनका बड़ा नुकसान भी हो सकता है।

लोकल फाल्ट और ट्रिपिंग से जूझते इलाके
हरुनगला, जगतपुर, पुराना शहर, महानगर, सनसिटी, भोजीपुरा, फरीदपुर आदि वह इलाके हैं, जहां लोकल फाल्ट और ट्रिपिंग को सबसे ज्यादा महसूस किया जा रहा है। बीते दिनों हरुनगला में छह दिन तक ट्रांसफार्मर फुंका रहा। यहां एक ट्राली ट्रांसफार्मर भी नहीं भेजा जा सका।

Also Read

ब्रॉड गेज लाइन तैयार लेकिन नहीं शुरू हुआ ट्रेनों का संचालन

20 Jul 2024 03:42 PM

पीलीभीत पीलीभीत-मैलानी रेलखंड: ब्रॉड गेज लाइन तैयार लेकिन नहीं शुरू हुआ ट्रेनों का संचालन

हाल ही में, मुख्य सुरक्षा आयुक्त ने इस नवीनीकृत रेल खंड का व्यापक निरीक्षण किया और इस पर ट्रेन संचालन के लिए अपनी स्वीकृति प्रदान की। रेलवे अधिकारियों ने आशा व्यक्त की है कि आने वाले सप्ताह में इस मार्ग पर यात्री ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा। और पढ़ें