advertisements
advertisements

सीएम की सभा से सांसद गायब : पीलीभीत पहुंचे योगी आदित्यनाथ, टिकट कटने के बाद नए प्रत्याशी की सभा में नहीं पहुंचे वरुण गांधी

पीलीभीत पहुंचे योगी आदित्यनाथ, टिकट कटने के बाद नए प्रत्याशी की सभा में नहीं पहुंचे वरुण गांधी
UPT | पीलीभीत में सीएम योगी

Apr 02, 2024 18:49

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे शहर के सनातन धर्म बांकेबिहारी राम इंटर कॉलेज के मैदान आयोजित प्रबुद्ध सम्मेलन में पीलीभीत पहुंचे...

Apr 02, 2024 18:49

Pilibhit News : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार दोपहर करीब 12 बजे पीलीभीत पहुंचे। शहर के सनातन धर्म बांकेबिहारी राम इंटर कॉलेज के मैदान में आयोजित प्रबुद्ध सम्मेलन में जनता को संबोधित किया। जनप्रतिनिधियों और व्यापारियों ने सीएम का बांसुरी भेंट कर स्वागत किया। वहीं, समर्थकों ने सीएम को फूल माला पहनाई। सीएम योगी ने सीएम योगी ने कहा कि पीलीभीत हमारे लिए इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि यहां पर परिश्रम और पुरुषार्थ से सोना उगलने वाले उन्नदाता और श्रीकृष्ण की याद दिलाने वाले हस्तशिल्पों का अद्भुत संजोग है। उन्होंने कहा कि पीलीभीत में एक तरफ टाइगर की दहाड़ है तो दूसरी तरफ बांसुरी की मधुर तान है।

मंच पर नहीं दिखे वरुण गांधी
आपको बता दें कि सीएम के आने से पहले प्रत्याशी जितिन प्रसाद और भाजपा जिलाध्यक्ष संजीव प्रताप सिंह ने भी सम्मेलन को संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन ब्रज क्षेत्र के पार्टी महामंत्री राकेश मिश्र अनावा ने किया। गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग राज्यमंत्री, लोकसभा चुनाव के क्लस्टर इंचार्ज सुरेश राणा सहित अन्य लोगों ने सीएम का स्वागत किया, लेकिन इन सबके बीच पीलीभीत सीट से सांसद वरुण गांधी नजर नहीं आए। अनुमान लगाया जा सकता है कि पीलीभीत सीट से टिकट कटने से वरुण गांधी भाजपा से नाराज हैं।

पार्टी ने काटा था वरुण गांधी का टिकट
आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में भाजपा ने यूपी की पीलीभीत सीट से वरुण गांधी का टिकट काट दिया है। वरुण गांधी की जगह पार्टी ने जितिन प्रसाद को उम्मीदवार घोषित किया है। वरुण गांधी ने साल 2019 में पीलीभीत से चुनाव जीता था। लेकिन इस बार पार्टी ने जितिन प्रसाद पर भरोसा दिखाया है। इससे पहले वरुण सुल्तानपुर से सांसद रह चुके हैं।

‘2024 में दुनिया के अंदर भारत का सम्मान बढ़ा है’
सीएम योगी ने कहा कि आपने 2014 के पहले और आज के भारत को देखा है। 2014 से पहले अविश्वास था, अराजकता थी। देश को लेकर कोई सोच नहीं थी। जनता के मन में सरकार के प्रति भी विश्वासन नहीं रह गया था। स्वाभाविक रूप से जब अपने देश के लोग सम्मान नहीं दे रहे हैं तो दुनिया के लोगों ने सम्मान देना बंद कर दिया था। किसान आत्महत्या कर रहा था। युवा पलायन कर रहा था। कहीं उग्रवाद था तो कहीं नक्सलवाद था। आपस में जातीय वैमनस्ता की खाई इतनी चौड़ी थी कि कोई व्यक्ति अपने आपको सुरक्षित महसूस नहीं करता था। यह 2014 पहले की भारत और यूपी की स्थिति थी। 2024 में दुनिया के अंदर भारत का सम्मान बढ़ा है। देश की सीमाएं पूरी तरह सुरक्षित हैं। कश्मीर में आतंकवाद समाप्त। नक्सलवाद समाप्त। देश में सुरक्षा का बेहतर वातावरण है।

Also Read

 वरुण गांधी के समर्थक साइकिल की रफ्तार बढ़ाने में जुटे

19 Apr 2024 12:36 AM

बरेली पीलीभीत लोकसभा में भाजपा-सपा के बीच कांटे की टक्कर : वरुण गांधी के समर्थक साइकिल की रफ्तार बढ़ाने में जुटे

मुख्य मुकाबला भाजपा और सपा के बीच माना जा रहा है। यहां दोनों के बीच कांटे की टक्कर है। यहां हर किसी की निगाह पीलीभीत लोकसभा सीट से सांसद वरुण गांधी पर लगी है। और पढ़ें