Maharajganj News : हाईटेक होंगे थाने, विवेचक और हेड मोहर्रिर को मिलेंगे टैबलेट, जानें पूरी योजना...

हाईटेक होंगे थाने, विवेचक और हेड मोहर्रिर को मिलेंगे टैबलेट, जानें पूरी योजना...
UPT | महाराजगंज में थानों को हाईटेक करने की तैयारी।

Jul 10, 2024 10:35

भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की जगह भारतीय न्याय संहिता (बीएनएस) लागू होने के बाद पुलिस की जिम्मेदारियां भी काफी बढ़ गईं हैं। संसाधनों की कमी से जूझ रहे पुलिस थाने भी जल्द ही

Jul 10, 2024 10:35

Short Highlights
  • फील्ड यूनिट व फोरेंसिक टीम के पास भी होंगी आधुनिक मशीनें।
  • शासन ने थानावार टैबलेट के लिए एसपी से मांगा प्रस्ताव।
  • नए कानून में डिजिटल साक्ष्यों पर जोर।
  • घटना, जांच और बयान की होगी वीडियो रिकार्डिंग।
Maharajganj News : भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की जगह भारतीय न्याय संहिता (बीएनएस) लागू होने के बाद पुलिस की जिम्मेदारियां भी काफी बढ़ गईं हैं। संसाधनों की कमी से जूझ रहे पुलिस थाने भी जल्द ही अपडेट नजर आएंगे। पुलिसकर्मियों को डिजिटली सशक्त बनाने के लिए आधुनिक संसाधनों से लैस करने की तैयारी चल रही है। इस क्रम में अब थानों में विवेचक और हेड मोहर्रिर को टैबलेट दिए जाएंगे। फील्ड यूनिट और फोरेंसिक टीम भी आधुनिक उपकरणों से लैस होगी। अपराधियों को सजा दिलाने के लिए किसी घटना का क्राइम सीन बनाने के लिए तकनीकी मशीनें भी आएंगी।

ये है पूरी योजना
पुलिस आधुनिकीकरण की दिशा में तेजी से प्रयास हो रहे हैं। सीसीटीएनएस (क्राइम एंड क्रिमिनल ट्रैकिंग नेटवर्क सिस्टम) लागू होने के बाद पुलिस थानों के कार्य आनलाइन हो चुके हैं। नया कानून लागू होने के बाद अब डिजिटल साक्ष्यों पर जोर रहेगा। घटनाओं की विवेचना अभी तक पर्चा काटकर आरोप पत्र दाखिल कर दिया जाता था, लेकिन अब हर जांच का वीडियो भी बनाया जाएगा। पुलिस अब कहीं पर किसी भी व्यक्ति को तमंचा, किसी मादक पदार्थ या अन्य किसी वस्तु के साथ गिरफ्तार करती है, तो उसका वीडियो भी बनाएगी। गवाह या पीड़ित के बयान की भी वीडियो रिकार्डिंग होगी। वीडियो या फिर वाइस रिकार्डिंग के लिए सभी पुलिसकर्मियों के पास स्मार्ट फोन हैं, फिलहाल अभी वह उसी से काम करेंगे। अब सभी पुलिस थानों के हेड मोहर्रिर और विवेचकों के पास टैबलेट होंगे। यह टैबलेट संबंधित के स्थानांतरण के बाद प्रतिस्थानी को सौंप दिए जाएंगे। इस तरह स्थानांतरण के बाद वह टैबलेट थाने में ही रहेगा। इसके लिए शासन ने थानावार प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिए हैं।

थानों को डिजिटली लैस करने की योजना 
महराजगंज पुलिस अधीक्षक सोमेंद्र मीना ने बताया कि नए कानून को लेकर पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। इसके तहत कार्रवाई भी की जा रही है। अपराध और अपराधियों के विरुद्ध त्वरित कार्रवाई के लिए पुलिस थानों को डिजिटली लैस करने की योजना है। जिले स्तर पर फोरेंसिक लैब की स्थापना समेत अन्य संसाधन मजबूत किए जाएंगे।

Also Read

भविष्य के अनुकूल होगी धान और गेहूं की खेती, घटेगी लागत, बढ़ेगी उत्पादकता

17 Jul 2024 06:48 PM

गोरखपुर Gorakhpur News : भविष्य के अनुकूल होगी धान और गेहूं की खेती, घटेगी लागत, बढ़ेगी उत्पादकता

इरी के साउथ एशिया रीजनल सेंटर (वाराणसी) के डायरेक्टर डॉ. सुधांशु सिंह के नेतृत्व में वैज्ञानिकों की एक टीम ने बुधवार को चौक बाजार स्थित फार्म पर धान की खेती का निरीक्षण किया और अब तक किए गए प्रयोग/अनुसंधान के परिणाम का मूल्यांकन किया। और पढ़ें