advertisements
advertisements

Kannauj News : बसपा को कन्नौज सीट पर नहीं मिल रहा प्रभावशाली चेहरा, अकील अहमद का टिकट कटा, इमरान बिन जफर को बनाया प्रत्याशी

बसपा को कन्नौज सीट पर नहीं मिल रहा प्रभावशाली चेहरा, अकील अहमद का टिकट कटा, इमरान बिन जफर को बनाया प्रत्याशी
UPT | बसपा सुप्रीमो मायावती

Apr 02, 2024 13:23

बसपा को कन्नौज सीट से प्रभावशाली प्रत्याशी नहीं मिल रहा है। जो सपा और बीजेपी को टक्कर दे सके। बसपा सुप्रीमों ने कन्नौज सीट पर प्रत्याशी को बदला है। उनके स्थान पर इमरान बिन जफर को प्रत्याशी के रूप में उतारा गया है। 

Apr 02, 2024 13:23

Kanpur News: इत्र नगरी कन्नौज में बसपा को प्रभावशाली चेहरा नहीं मिल रहा है। कन्नौज सीट समाजवादी पार्टी का गढ़ है। सपा मुखिया अखिलेश यादव के कन्नौज से चुनाव लड़ने की अटकलें लगाईं जा रही हैं। इन अटकलों के बीच बसपा सुप्रीमों मायावती ने कन्नौज सीट से अकील अहमद पट्टा को प्रत्याशी बनाया था। लेकिन बसपा प्रत्याशी पर ही सपा मुखिया अखिलेश यादव के करीबी होने के आरोप लगने लगे। स्थानीय नेताओं की रिपोर्ट भी अकील अहमद के खिलाफ थी। बसपा सुप्रीमों ने अकील अहमद का टिकट काट कर कानपुर के इमरान बिन जफर को थमा दिया।

कन्नौज लोकसभा क्षेत्र के रसूलाबाद में रहने वाले अकील अहमद पट्टा को बीएसपी ने प्रत्याशी बनाया था। इनकी पत्नी सुल्ताना बेगम ग्राम प्रधान रह चुकी हैं। अकील अहमद 1996 से बसपा की सेवा कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कई सपा ज्वाइंन करने की कोशिश की, लेकिन सपा के स्थानीय नेताओं ने उन्हें नजरंदाज कर दिया। बीएसपी के जोनल कोऑर्डिनेटर नौशाद अली ने 11 मार्च को पार्टी के पदाधिकारियों के साथ कानपुर देहात के रसूलाबाद में बैठक की थी। जिसमें उन्होंने अकील अहमद के नाम की घोषणा की थी।

अकील अहमद के खिलाफ थी रिपोर्ट
अकील अहमद पट्टा को प्रत्याशी बनाए जाने के बाद स्थानीय नेता असंतुष्ट थे। बीएसपी प्रत्याशी पर सपा मुखिया के करीबी होने की चचांए चल रहीं थीं। अकील अहमद को 20 दिन पहले प्रत्याशी बनाया गया था। लेकिन उन्होंने क्षेंत्र में अपना चुनावी प्रचार-प्रसार शुरू नहीं किया था। जिसकी वजह से चर्चाओं को बल मिल रहा था। स्थानीय नेताओं की रिपोर्ट भी बसपा सुप्रीमों को भेजी गई थी। बसपा सुप्रीमों मायावती ने वरिष्ठ नेताओं और जोनल कोर्डिनेटर से चर्चा करने के बाद अकील अहमद का टिकट काट दिया।

बसपा को नहीं मिला प्रभावशाली प्रत्याशी
बसपा के लिए सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात है कि कन्नौज से कोई भी प्रभावशाली चेहरा नहीं मिल रहा है। जिसे प्रत्याशी के रूप में उतार कर सपा और बीजेपी को चुनौती दी जा सके। बसपा ने कानपुर के जाजमऊ डिफेंस कॉलोनी निवासी इमरान बिन जफर को कन्नौज से प्रत्याशी बनाया है। इमरान बिन जफर लोकसभा चुनाव 2014 में आम आदमी पार्टी की टिकट से कन्नौज से चुनाव लड़ चुके हैं।
 

Also Read

सपा मुखिया बोले-साइकिल चुनाव चिन्ह और सामने हम बैठे हैं, हम रिकॉर्ड वोटों दर्ज करेंगे जीत

18 Apr 2024 11:14 PM

कन्नौज कन्नौज में अखिलेश यादव : सपा मुखिया बोले-साइकिल चुनाव चिन्ह और सामने हम बैठे हैं, हम रिकॉर्ड वोटों दर्ज करेंगे जीत

सपा मुखिया अखिलेश यादव गुरूवार को कन्नौज दौरे पर थे। उन्होंने पार्टी के पदाधि​कारियों और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि सरकार युवाओं को नौकरी इस लिए नहीं दे रही है कि उन्हें आरक्षण देना पड़ेगा। सरकार आरक्षण नहीं देना चाहती है। और पढ़ें