Kanpur News : पनकी मंदिर के महंत और पूर्व मंत्री के शस्त्र लाइसेंस रद्द, जानें क्या है वजह...

पनकी मंदिर के महंत और पूर्व मंत्री के शस्त्र लाइसेंस रद्द, जानें क्या है वजह...
UPT | डीएम ने दिए शस्त्र लाइसेंस सरेंडर करने के निर्देश।

Jul 11, 2024 14:33

कानपुर जिलाधिकारी ने शस्त्र लाइसेंस को लेकर बड़ी कार्रवाई की है। जिलाधिकारी कोर्ट ने पनकी हनुमान मंदिर के महंत और बार एसोसिएशन के पूर्व मंत्री का शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिया है। मंदिर के महंत के...

Jul 11, 2024 14:33

Kanpur News : कानपुर जिलाधिकारी ने शस्त्र लाइसेंस को लेकर बड़ी कार्रवाई की है। जिलाधिकारी कोर्ट ने पनकी हनुमान मंदिर के महंत और बार एसोसिएशन के पूर्व मंत्री का शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिया है। मंदिर के महंत के खिलाफ पनकी और बार के पूर्व मंत्री पर चकेरी पुलिस की रिपोर्ट पर यह कार्रवाई की गई है। 

गद्दी के लिए चल रही रंजिश
पंचमुखी हनुमान मंदिर पनकी के पुजारी कृष्ण लाल शुक्ला उर्फ कृष्ण दास शुक्ला के पास डीबीबीएल बंदूक का लाइसेंस था। पनकी पुलिस ने उनके खिलाफ बंदूक का लाइसेंस निरस्त करने की रिपोर्ट दी थी। इसमें कहा गया था कि महंत की गद्दी को लेकर आपस में गंभीर स्थिति बनी हुई है। एक साल से लगातार रंजिश चल रही है। कृष्ण दास पर मुकदमा दर्ज किया जा चुका है। पनकी मंदिर की गद्दी के लिए किसी भी समय बड़ी घटना हो सकती है। डीएम राकेश कुमार ने कोर्ट में सुनवाई करते हुए लाइसेंस को निरस्त कर दिया। वहीं, महंत कृष्णदास ने बताया कि लाइसेंस निरस्त होने की जानकारी नहीं है। उन्हें जानमाल का खतरा है। डीएम से इस संबंध में बात करूंगा।

मंत्री और पूर्व मंत्री ने सरेंडर नहीं किया लाइसेंस
डीएम राकेश कुमार ने तीन असलहा रखने वाले लोगों के खिलाफ भी जांच शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार जिन लोगों के पास तीन असलहे हैं, उनको एक असलहा सरेंडर करना था। लेकिन, काफी लोगों ने जमा नहीं किये हैं। इनमें कैबिनेट मंत्री राकेश सचान और पूर्व मंत्री प्रेमलता कटियार भी हैं, जो तीन असलहों का मोह नहीं छोड़ पा रहे हैं। जिले के 114 रसूखदार कई सालों से अवैध तरीके से तीन असलहे रखे हैं। असलहा विभाग भी इन तीन शस्त्र लाइसेंसधारियों को नोटिस देकर भूल गया। फिलहाल जिलाधिकारी के आदेश पर बनाई गई लिस्ट में मिले 114 रसूखदारों के नाम पुलिस कमिश्नर को भेजकर असलहा जमा करने के लिए कहा गया है। 

172 लोगों ने तीसरा लाइसेंस सरेंडर किया 
साल 2021 में शासन ने तीन असलहा लाइसेंस रखने वालों को अपनी सुरक्षा से एक लाइसेंस सरेंडर करने का आदेश दिया था। विभाग से नोटिस मिलने पर जिले के 172 लोगों ने तीसरा लाइसेंस सरेंडर भी किया। बावजूद 114 ने तीसरा लाइसेंस सरेंडर नहीं किया। डीएम कोर्ट में मामले सामने आए तो तीन असलहा लाइसेंस की लिस्ट निकलवाने का आदेश दिया गया। एसीएम सप्तम सुरेंद्र बहादुर सिंह ने तीन असलहा लाइसेंस रखने वालों को कुल 42,000 लाइसेंसधारी की लिस्ट में छांटा गया है। फिलहाल लिस्ट पुलिस कमिश्नर को भेज दी गई है। कार्रवाई हो सकती है।

क्या कहते हैं डीएम
इस संबंध में डीएम राकेश कुमार ने बताया कि जिले के सभी असलहों की जांच में 114 लोगों के लाइसेंस ऐसे पाए गए हैं, जिनके पास तीन असलहे हैं। पुलिस कमिश्नर को पत्र भेजकर इन सभी लाइसेंसधारी का तीसरा असलहा जमा करने का आदेश दिया गया है। जल्द ही नोटिस जारी करके असलहा जमा न करने का कारण पूछा जाएगा।

Also Read

उपचुनाव के लिए भाजपा ने कसी कमर, 30 मंत्रियों की लगाई गई ड्यूटी

17 Jul 2024 07:27 PM

कानपुर नगर UP Assembly By-Election : उपचुनाव के लिए भाजपा ने कसी कमर, 30 मंत्रियों की लगाई गई ड्यूटी

बीजेपी पूरी ताकत के साथ उपचुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है। बीजेपी ने यूपी की सभी 10 में से 10 सीटों को जीतने का दावा किया है। इसके लिए सीएम योगी सभी 10 सीटों पर कैबिनेट और राज्यमंत्रियों की फौज उतार दी है।  और पढ़ें