advertisements
advertisements

अभ्युदय योजना : यूपीएससी और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए फ्री कोचिंग शुरू, जल्दी करें आवेदन

यूपीएससी और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए फ्री कोचिंग शुरू, जल्दी करें आवेदन
UPT | अभ्युदय योजना में निःशुल्क कोचिंग के लिए पंजीकरण शुरू

Jun 11, 2024 16:05

यूपी सरकार की तरफ से अभ्युदय योजना के तहत मिर्जापुर, पीलीभीत जिलों में निःशुल्क कोचिंग के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। अभ्युदय योजना के तहत अभ्यर्थी विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की निःशुल्क तैयारी कर सकते हैं। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से आने वाले अभ्यर्थी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

Jun 11, 2024 16:05

Lucknow News :  यूपीएससी, यूपीपीएससी, जेईई, बैंकिंग और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे प्रदेश के युवाओं के लिए अच्छी खबर है। उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के तहत सरकार द्वारा दी जाने वाली निशुल्क कोचिंग के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू हो गई है। मिर्जापुर और पीलीभीत जिलों में रजिस्ट्रेशन शुरू हो गए हैं। अभ्यर्थी इसके लिए 25 जून तक आवेदन कर सकते हैं। पीलीभीत जिले के अभ्यर्थियों को फॉर्म भरने के लिए एक जुलाई तक का समय दिया गया है।

कमजोर वर्ग के छात्रों को दी जाती है कोचिंग  
प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग लेने के लिए छात्रों को दूसरे जिलों या राज्यों में जाना पड़ता है। ऐसे छात्र जो दूसरे जिलों में रहकर कोचिंग नहीं ले सकते हैं, उनके लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना शुरू की है। मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के जरिए राज्य के छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए मुफ्त कोचिंग दी जाती है। इस योजना के तहत राज्य के छात्रों को उनके ही जिलों में विषय विशेषज्ञों के जरिए यह कोचिंग दी जाती है। इस ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से राज्य स्तरीय प्रतियोगी परीक्षाओं से संबंधित डिजिटल सामग्री भी उपलब्ध कराई जाती है।

छात्रों को इस तरह से मिलता है प्रशिक्षण
अभ्युदय पोर्टल सिविल सेवा व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के इच्छुक लोगों के लिए एक मुफ्त मंच है। मंच में 500 से अधिक IAS अधिकारी, 450 से अधिक IPS अधिकारी, 300 से अधिक IFS अधिकारी और विभिन्न विषयों के विशेषज्ञ हैं, जो सिविल सेवा व अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के इच्छुक उम्मीदवारों को साक्षात कक्षाओं व वर्चूअल माध्यम से प्रशिक्षण देते हैं।

इन प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए दी जाती है कोचिंग
  • संघ लोक सेवा आयोग( UPSC)
  • यूपी लोक सेवा आयोग (UPPSC)
  • अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) 
  • अन्य भर्ती बोर्ड संस्थाओं द्वारा आयोजित परीक्षाएं
  • जे ई ई
  • नीट
  • एनडीए
  • सीडीएस
  • अर्धसैनिक
  • केंद्रीय पुलिस बल
  • बैंकिंग
  • एसएससी
  • बीएड
  • टीईटी
इस तरह करें आवेदन
इस कोचिंग के लिए छात्र आधिकारिक वेबसाइट abhyuday.up.gov.in पर जाकर ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन भी रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। 
  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको Login as User के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया डायलॉग बॉक्स खुलेगा जिसमें आपको अपना यूजरनेम या ईमेल आईडी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको लॉगइन बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आप यूजर के तौर पर लॉगइन कर पाएंगे।
अभ्युदय योजना में पंजीकरण कैसे करें?
आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। वेबसाइट के होम पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन मिलेगा, जिस पर क्लिक करने पर कोर्स की पूरी सूची खुल जाएगी।

इन मानदंडों का करना होगा पालन
  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • उम्मीदवार आर्थिक रूप से गरीब होना चाहिए, जो प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी का खर्च वहन करने में असमर्थ हो।
  • यह योजना विशेष रूप से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए है।
  • आवेदन केवल ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से ही जमा किए जाने चाहिए।
  • प्रत्येक छात्र इस योजना का लाभ केवल एक बार ही उठा सकता है।
निःशुल्क कोचिंग के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट
मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना 2024 के तहत निःशुल्क कोचिंग के इच्छुक छात्रों के पास कुछ डॉक्यूमेंट जरूर होने चाहिए। इसमें छात्र का आधार कार्ड, राशन कार्ड, उसका निवास प्रमाण पत्र, जन्म तिथि का प्रमाण, मोबाइल नंबर, छात्र की पासपोर्ट साइज फोटो और ईमेल आईडी आवश्यक है। 

Also Read

बोले- कभी भी गिर सकती है केंद्र की लंगड़ी सरकार

13 Jun 2024 07:28 PM

लखनऊ चंद्रशेखर आजाद की नीट मामले में आंदोलन की चेतावनी : बोले- कभी भी गिर सकती है केंद्र की लंगड़ी सरकार

सांसद चंद्रशेखर आजाद ने नीट मामले में आंदोलन की चेतावनी दी है। उन्होंने सहयोगी दल की मदद से चल रही भाजपा सरकार पर कटाक्ष किया। वहीं भीषण गर्मी में ड्यूटी पर तैनात पुलिस बल के लिए चिंता जताई और ये मामला संसद में उठाने की बात कही। और पढ़ें