advertisements
advertisements

Lucknow News : लखनऊ से बाहर नहीं चलेंगी सिटी बसें, रूट में किया जा रहा है बदलाव

लखनऊ से बाहर नहीं चलेंगी सिटी बसें, रूट में किया जा रहा है बदलाव
UPT | सिटी बसें शहर की सीमा में ही चलाई जाएंगी

Jun 10, 2024 17:31

राजधानी लखनऊ में बसों से सफर करने वाले यात्रियों के लिए जरूरी खबर है। सिटी बसें शहर की सीमा में ही चलाई जाने की योजना बनाई जा रही है। वा रोड,  बाराबंकी, हरदोई, संडीला, रायबरेली...

Jun 10, 2024 17:31

Lucknow News : राजधानी लखनऊ में बसों से सफर करने वाले यात्रियों के लिए जरूरी खबर सिटी बसें शहर की सीमा में ही चलाई जाने की योजना बनाई जा रही है। देवा रोड,  बाराबंकी, हरदोई, संडीला, रायबरेली, सुल्तानपुर, रूट पर चलने वाली बसों को हटाया जाएगा। इन रूटों से बस हटाने से यात्रियों को परेशानी हो सकती है तथा गंतव्य तक पहुंचाने के लिए कई वाहनों का सहारा लेना पड़ सकता है जिसके लिए अच्छा खासा किराया भी देना पड़ेगा।

सिटी बसों को केवल शहर में चलाने की योजना
लखनऊ शहर में 22 रूटों पर 250 सिटी बसों का संचालन होता है। लखनऊ सिटी ट्रांसपोर्ट के पास 100 सीएनजी सिटी बसों और 140 इलेक्ट्रॉनिक बसों की सुविधा है, जिसमें से 40 से ज्यादा बसें लखनऊ से देवा, बाराबंकी, हरदोई, रायबरेली, संडीला रोड पर चलाई जा रही हैं। सिटी बसें उन रूटों पर चलाई जा रही हैं जहां पर पहले से संचालित हैं और उन रूटों पर भी जहां पर रोडवेज बसें पहले से चल रही हैं। इन रूटों पर यात्री वेटिंग से बचने के लिए सिटी बसों से यात्रा कर रहे हैं, जिससे रोडवेज बसों को भारी नुकसान हो रहा है। इसलिए सिटी बसों को सिर्फ शहर के अंदर ही चलाने की योजना बनाई जा रही है।

10 मिनट के अंतराल में बसें मिलती रहें 
सिटी ट्रांसपोर्ट के एम डी आरके त्रिपाठी का कहना है कि इस योजना के लागू होने पर देवा रोड, बाराबंकी हरदोई, रायबरेली, संडीला और सुल्तानपुर रोड पर सिटी बसों से लोग सफर नहीं कर पाएंगे। रोडवेज बसों के रूट पर सिटी बसों के संचालक को लेकर लखनऊ सिटी ट्रांसपोर्ट और परिवहन निगम के बीच बातचीत चल रही है। लंबी दूरी की सिटी बसों को शहर में ऐसे इलाकों में संचालित किया जाए जहां अभी तक उनकी सेवा उपलब्ध नहीं है। यात्रियों को हर स्पॉट पर 10 मिनट के अंतराल में बसें मिलती रहें, यह सुनिश्चित किया जाएगा।

इन रूटों पर चलेंगी सिटी बसें
लखनऊ में अलीगंज रूट, चारबाग से पीजीआई, चौक घंटाघर से बीकेटी, राजाजीपुरम से बीबी रोड पर सिटी बसों की कमी के कारण दैनिक यात्रियों को समस्या हो रही है। इन रूटों पर बसों को बढ़ाने की योजना है। सिटी ट्रांसपोर्ट के एमडी आरके त्रिपाठी का कहना है कि परिवहन निगम से इस विषय पर बातचीत चल रही है, सहमति बनने पर इसे लागू कराया जाएगा।

बसों के कायाकल्प में सुधार किया जायेगा 
एमडी आरके त्रिपाठी ने आगे कहा कि खराब स्थिति में दौड़ रही सीएनजी बसों की दशा को सुधारने की योजना बनाई गई है। शुरुआती चरण में 42 सिटी बसों का कायाकल्प होगा। नगरीय परिवहन निदेशालय की योजना के अनुसार लखनऊ समेत 13 शहरों में चलने वाली सीएनजी बसों की दशा सुधारी जाएगी। संचालित ढाई सौ सीएनजी और इलेक्ट्रिक बसों में 110 बसों की हालत खस्ता पाई गई है। उन बसों को चिन्हित किया गया है, जल्द से जल्द उनकी दशा सुधारी जाएगी ताकि आम पब्लिक को पब्लिक ट्रांसपोर्ट का पूरा फायदा मिल सके।

Also Read

सीएम योगी ने मध्य प्रदेश के सीएम मोहन यादव के पत्र पर उठाया कदम

13 Jun 2024 08:10 PM

लखनऊ टीकमगढ़ की प्यास बुझाएगा यूपी: सीएम योगी ने मध्य प्रदेश के सीएम मोहन यादव के पत्र पर उठाया कदम

मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ शहर की पेयजल व्यवस्था के समाधान के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ललितपुर जनपद के जमरार बांध से 0.72 एमसीएम जल प्रदान करने पर सहमत हो गई है। और पढ़ें