UP News : मानव संपदा पोर्टल पर अब 31 जुलाई तक देना होगा चल-अचल संपत्ति का विवरण, शासनादेश जारी

मानव संपदा पोर्टल पर अब 31 जुलाई तक देना होगा चल-अचल संपत्ति का विवरण, शासनादेश जारी
UPT | अपर मुख्य सचिव डॉ. देवेश चतुर्वेदी।

Jul 12, 2024 00:16

अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी ने कहा है कि मानव संपदा पोर्टल पर संपत्ति विवरण प्रस्तुत करने का काम पहली बार किया जा रहा है। इसलिए चल-अचल संपत्ति का विवरण पोर्टल पर प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई निर्धारित करने का निर्णय किया गया है।

Jul 12, 2024 00:16

Lucknow News : प्रदेश में सरकारी कर्मचारी कई आदेशों के बाद भी मानव संपदा पोर्टल पर अपनी चल-अचल संपत्ति का विवरण नहीं दे रहे हैं। इसके लिए उनकी पदोन्नति रोकने तक के निर्देश जारी किए जा चुके हैं। इसके बाद भी मानव संपदा पोर्टल पर अपनी चल-अचल संपत्ति घोषित करने वालों की संख्या नगण्य है। अब सरकार ने इसका विवरण देन की समय सीमा बढ़ाकर 31 जुलाई कर दी है। अपर मुख्य सचिव डॉ. देवेश चतुर्वेदी ने गुरुवार को इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया है। उन्होंने सभी विभागाध्यक्षों से इसका अनिवार्य रूप से पालन कराने को कहा है। 

प्रमोशन नहीं दिए जाने का किया गया है निर्णय
अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी ने कहा है कि 18 अगस्त 2023 के शासनादेश में प्रदेश के सभी अधिकारियों, कर्मचारियों को मानव सम्पदा पोर्टल पर अपनी चल और अचल संपत्ति का विवरण 31 दिसंबर 2023 तक अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए थे। ऐसा नहीं करने पर कहा गया था कि इसे प्रतिकूल रूप में लिया जाएगा। ये भी कहा गया कि 1 जनवरी 2024 के बाद होने वाली विभागीय चयन समिति की बैठकों में ऐसे कार्मिकों की पदोन्नति के मामलों पर तब तक विचार नहीं किया जाएगा, जब तक वह अपनी चल-अचल सम्पत्ति का विवरण पोर्टल पर प्रस्तुत नहीं करते हैं। 

अभी भी कर्मचारी नहीं ले रहे दिलचस्पी
अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी ने कहा कि इसके बाद 6 जून 2024 के शासनादेश में मानव सम्पदा पोर्टल पर चल अचल संपत्ति का विवरण प्रस्तुत किये जाने की समयावधि 30 जून 2024 निर्धारित करते हुए ऐसा नहीं करने वाले कार्मिकों के विरुद्ध उत्तर प्रदेश सरकारी सेवक (अनुशासन एवं अपील) नियमावली-1999 के सुसंगत प्रावधानों के अधीन अनुशासनिक कार्रवाई के निर्देश जारी किए गए। उन्होंने कहा कि मानव सम्पदा पोर्टल की समीक्षा में सामने आया है कि स्पष्ट निर्देशों के बाद भी पोर्टल पर कुल पंजीकृत कार्मिकों के सापेक्ष अपनी सम्पत्ति का विवरण प्रस्तुत करने वाले कार्मिकों की संख्या नगण्य है। यह स्थिति किसी भी स्तर पर संतोषजनक नहीं है। 

31 जुलाई तक हर हाल में किया जाए पालन 
उन्होंने कहा कि मानव सम्पदा पोर्टल पर सम्पत्ति विवरण प्रस्तुत करने का काम पहली बार किया जा रहा है। इसलिए सभी परिस्थितियों के मद्देनजर कार्मिकों को एक अवसर और प्रदान करते हए चल-अचल सम्पत्ति का विवरण पोर्टल पर प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई, 2024 निर्धारित करने का निर्णय किया गया है। इसका समयबद्ध पालना कराना जरूरी है। अपर मुख्य सचिव ने सभी प्रमुख सचिव, विभागाध्यक्षों से इस मामले की व्यक्तविगत रूप से विभागीय समीक्षा करने को कहा है। 

Also Read

जापानी वनरोपण विधि से पर्यावरणीय स्थिरता की दिशा में कदम बढ़ा रहा प्राधिकरण

20 Jul 2024 06:45 PM

लखनऊ औद्योगिक वन स्थापित कर रहा यूपीसीडा : जापानी वनरोपण विधि से पर्यावरणीय स्थिरता की दिशा में कदम बढ़ा रहा प्राधिकरण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा के अनुरूप शनिवार को प्रदेश भर में सभी विभागों ने 'पेड़ लगाओ, पेड़ बचाओ' अभियान में... और पढ़ें