advertisements
advertisements

Hardoi News : वोटरों को चुनाव में लुभाते हैं उड़न खटोले, पिछले इलेक्शन में उतरे थे 11 हेलीकॉप्टर 

वोटरों को चुनाव में लुभाते हैं उड़न खटोले, पिछले इलेक्शन में उतरे थे 11 हेलीकॉप्टर 
UPT | मतदाताओं को लुभाते हेलीकॉप्टर

Apr 03, 2024 12:25

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में चुनावी हलचल के बीच हेलीकॉप्टर यानी उड़न खटोले का विशेष महत्व है। जनता हेलीकॉप्टर से आने वाले नेताओं को लेकर हर समय बेकाबू रहती है। आसमान...

Apr 03, 2024 12:25

Hardoi News : उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में चुनावी हलचल के बीच हेलीकॉप्टर यानी उड़न खटोले का विशेष महत्व है। जनता हेलीकॉप्टर से आने वाले नेताओं को लेकर हर समय बेकाबू रहती है। आसमान में परवाज भरते उड़न खटोले को लेकर जनता के बीच में काफी दिलचस्पी दिखाई पड़ती है। नेता किसी भी पार्टी या दल का हो, हेलीकॉप्टर देखने के लिए एक ही वोटर सभी नेताओं को सुनने के लिए पहुंचता है। कई वोटर ऐसे होते हैं, जो सिर्फ हेलीकॉप्टर यानी उड़न खटोला ही देखना पसंद करते हैं। जनता के बीच पहुंचकर यह शब्द सुनाई देता है कि वहु आई गौ देखऊ। ज्यादातर लाल नीले सफेद हेलीकॉप्टर देखकर आम जनता मंत्रमुग्ध होती रहती है। भीड़ बढ़ाने के लिए सन 2019 के चुनाव में हरदोई पहुंचे 11 हेलीकॉप्टर जनता के लिए आकर्षण का केंद्र रहे थे।

हरदोई के वोटरों को भाते हैं हवा बनाते उड़न खटोले
हरदोई जिले की जनता के दिल की बात करें तो वह नेताओं को बाद में, पहले हेलीकॉप्टर देखने ही जाती है। चाहे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला मतदान और मतदाता करते हों, लेकिन इसके बीच उड़न खटोले का विशेष महत्व है। नेताओं को सुनने आने वाली भीड़ की बड़ी संख्या उड़ने और उतरने वाले उड़न खटोले को देखना ज्यादा पसंद करती है। बीते लोकसभा इलेक्शन 2019 में करीब 11 बार उड़न खटोला यानी हेलीकॉप्टर हरदोई में उतरे थे। वहीं साल 2014 के चुनाव में आठ बार हेलीकॉप्टर हरदोई की जमीन पर उतरे थे, जिसमें जनता को लुभाने के लिए अप्रैल माह में मायावती, अखिलेश यादव, कल्याण सिंह, मुलायम सिंह यादव, नरेंद्र मोदी, अखिलेश यादव, राजनाथ सिंह, राहुल गांधी और फिर कल्याण सिंह ने जनता के बीच हेलीकॉप्टर से पहुंचकर समा बांधा था। पिछले चुनाव में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दो बार जिले में आकर धुआंधार जनसभा की थी। जिसमें 2019 के अप्रैल में उन्होंने मल्लावां और 2021 के अप्रैल में सवायजपुर में एक बड़ी जनसभा की थी। वहीं, मायावती ने 23 अप्रैल को भीरी घाट कछौना में और अखिलेश यादव ने जीआईसी मैदान पहुंचकर विशाल जनसभा को संबोधित किया था।

प्रशासन को करनी पड़ती है विशेष व्यवस्था
हरदोई के जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने बताया कि चुनावी दौर में नेताओं के हेलीकॉप्टर के लिए प्रशासन को विशेष व्यवस्था करनी पड़ती है। इसके लिए पहले से ही तय शेड्यूल के हिसाब से शासन को भी अवगत कराना पड़ता है। हेलीकॉप्टर उतरने से पहले उसे एरिया के फ्लाई जोन को भी बाधामुक्त बना दिया जाता है। इसमें जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, दमकल विभाग महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जनता को हेलीकॉप्टर से दूर रखने के लिए विशेष वेरिकेडिंग करके पुलिस की ड्यूटी लगाई जाती है। जनता हेलीकॉप्टर को बड़े ही चाव से देखती है।

Also Read

11 हजार दीप जलाकर लोगों को मतदान के लिए किया गया जागरूक

21 Apr 2024 12:47 AM

रायबरेली Loksabha Elections-2024 : 11 हजार दीप जलाकर लोगों को मतदान के लिए किया गया जागरूक

जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी हर्षिता माथुर ने कलेक्ट्रेट परिसर में बने वीवी पैट वेयरहाउस में  ईवीएम हॉल को जनपद के राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की उपस्थित में निरीक्षण किया गया। और पढ़ें