मेरठ में बोले जयंत चौधरी: 'टेक्नोलॉजी से बचना नहीं चाहिए. टेक्नोलॉजी से पारदर्शिता आती है'

'टेक्नोलॉजी से बचना नहीं चाहिए. टेक्नोलॉजी से पारदर्शिता आती है'
UPT |

Jul 11, 2024 16:15

हम विपक्ष में थे जो हमकों गदा, तलवार  स्वागत के दौरान भेंट में मिलता था। अब पक्ष में हैं तो फूल मालाओं, शॉल और पौधे भेंट में मिलते हैं।

Jul 11, 2024 16:15

Short Highlights
  • मंत्री जयंत चौधरी ने शिक्षकों की डिजिटल अटेंडेंस का फैसले को सही बताया
  • केंद्र में मंत्री बनने के बाद पहली बार मेरठ पहुंचे जयंत चौधरी 
  • सीसीएसयू में कॉफ्रेंस को जयंत चौधरी ने किया संबोधित 
Meerut News : मेरठ पहुंचे रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने सीसीएसयू में एक कार्यक्रम में भाग लिया। इस दौरान उनका फूल मालाओं से जोरदार तरीके से स्वागत किया गया। रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी के साथ बागपत के सांसद डॉ. राजकुमार सांगवान भी थे। रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी ने चौधरी चरण सिंह विवि में एक जोनल कॉफ्रेंस को संबोधित किया।

जिलों से आए युवा भी भाग लेने पहुंचे
कॉफ्रेंस में राज्यमंत्री कपिलदेव अग्रवाल भी पहुंचे। रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी के सीसीएसयू परिसर पहुंचने पर भारी संख्या में आसपास के जिलों से आए युवा भी भाग लेने पहुंचे। मंत्री बनने के बाद रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी का ये पहला मेरठ दौरा है।

काशी टोल प्लाजा से लेकर सीसीएसयू परिसर तक जोरदार तरीके से स्वागत
रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी का दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे पर काशी टोल प्लाजा से लेकर सीसीएसयू परिसर तक जोरदार तरीके से स्वागत किया गया। रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी के स्वागत में युवाओं ने नारेबाजी की। जयंत चौधरी के स्वागत से एल ब्लाक तिराहे से तेजगढ़ी चौराहे तक जाम की स्थिति उत्पन्न हो गई।

पक्ष में हैं तो फूल मालाओं, शॉल और पौधे भेंट में मिलते हैं
सीसीएसयू में कॉफ्रेंस में पहुंचे रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी ने कहा कि जब हम विपक्ष में थे जो हमकों गदा, तलवार  स्वागत के दौरान भेंट में मिलता था। अब पक्ष में हैं तो फूल मालाओं, शॉल और पौधे भेंट में मिलते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार में हैं तो देश और क्षेत्र के विकास, तरक्की के लिए काम करना है। 

चौधरी चरण सिंह विवि का इतिहास काफी पुराना
जयंत चौधरी ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार लगातार स्किल डवलपमेंट पर काम कर रही है। चौधरी चरण सिंह विवि का इतिहास काफी पुराना है। उनके खानदान का भी इस चौधरी चरण सिंह विवि से पुराना नाता है। रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी ने कहा कि आज कार्यक्रम में जो चेहरे यहां पर बैठे हुए हैं वो इसी चौधरी चरण सिंह विवि के प्रोडक्ट रहे हैं। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय का इतिहास बहुत गौरवशाली है। 

शिक्षकों की डिजिटल अटेंडेंस का फैसला सही कदम
रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी ने कहा कि शिक्षकों की डिजिटल अटेंडेंस का फैसला सही कदम है। इसको शिक्षकों को स्वीकार करना चाहिए। हम सभी कहीं ना कहीं देश की तरक्की के लिए नौनिहालों का भविष्य गढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को स्वयं भी जागरूक होना होगा। सरकारी योजना तब ही अच्छी चलती हैं जब कि लोग स्वयं उनका लाभ उठाएं। सरकार में काम करने का मौका मिल रहा है, काम करने के तरीके अलग होते हैं। उन्होंने कहा कि टेक्नोलॉजी से बचना नहीं चाहिए। टेक्नोलॉजी से पारदर्शिता आती है। मैं उन सभी शिक्षकों को उनकी शपथ की याद दिलाता हूं, जो उन्होंने ली थी। हमारी प्राथमिकता बच्चे देश का भविष्य हैं।
बतौर मंत्री पहली बार मेरठ पहुंचे जयंत चौधरी 
रालोद अध्यक्ष और केंद्रीय कौशल एवं उद्यमशीलता मंत्री स्वतंत्र प्रभार जयंत चौधरी बतौर मंत्री पहली बार मेरठ पहुंचे हैं। सीसीएसयू के सुभाष चंद्र बोस प्रेक्षागृह में आयेाजित कार्यक्रम में जयंत चौधरी ने युवाओं केा करियर और एजूकेशन से संबंधित जानकारियां दीं। इस दौरान सीसीएसयू वीसी प्रोफेसर संगीता शुक्ला भी मौजूद रहीं।       
 

Also Read

अवैध निर्माण पर प्राधिकरण सख्त, बिल्डर को अंतिम नोटिस

20 Jul 2024 05:29 PM

गौतमबुद्ध नगर नोएडा जेपी अमन सोसायटी में चलेगा बुलडोजर : अवैध निर्माण पर प्राधिकरण सख्त, बिल्डर को अंतिम नोटिस

नोएडा एक्सप्रेसवे के निकट सेक्टर-151 स्थित जेपी अमन सोसायटी में एक विवाद ने तूल पकड़ लिया है। अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन (एओए) और बिल्डर के बीच अस्थायी कार्यालय को लेकर चल रहे विवाद के बीच, नोएडा प्राधिकरण ने मामले में हस्तक्षेप किया है। और पढ़ें