advertisements
advertisements

चिटहेरा भूमि घोटाले में बड़ी खबर : गैंगस्टर यशपाल तोमर को सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी जमानत, तीन महीनों में मुकदमे की सुनवाई पूरी होगी

गैंगस्टर यशपाल तोमर को सुप्रीम कोर्ट ने नहीं दी जमानत, तीन महीनों में मुकदमे की सुनवाई पूरी होगी
UPT | यशपाल तोमर को नहीं मिली राहत।

May 15, 2024 23:56

किसानों के वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि इस मामले में गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की थी। इसमें तीन आईएएस-आईपीएस अफसरों के रिश्तेदारों के नाम शामिल थे। बाद में यह नाम आरोप पत्र में हटा दिए गए थे।

May 15, 2024 23:56

New Delhi/Noida News : गौतमबुद्ध नगर की दादरी तहसील के गांव चिटहेरा में हुए अरबों रुपये के भूमि घोटाले से जुड़ी बड़ी खबर है। यूपी के गैंगस्टर यशपाल तोमर को सुप्रीम कोर्ट से जमानत नहीं मिली है। बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने यशपाल तोमर की जमानत याचिका पर सुनवाई की। यशपाल पर भूमाफिया होने का आरोप है और यूपी गैंगस्टर्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। उसकी जमानत याचिका को अनुमति नहीं दी है और मुकदमे की प्रगति देखने के लिए सुनवाई 3 महीने के लिए स्थगित कर दी है। यशपाल तोमर पर कुछ वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों के साथ चिटहेरा भूमि घोटाले में शामिल होने का आरोप है। 

ग्रामीणों के साथ की धोखाधड़ी
किसानों के वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि इस मामले में गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने चार्जशीट दाखिल की थी। इसमें तीन आईएएस-आईपीएस अफसरों के रिश्तेदारों के नाम शामिल थे। बाद में यह नाम आरोप पत्र में हटा दिए गए थे। अपराधों की गंभीरता और इस तथ्य को ध्यान में रखते इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यशपाल तोमर को जमानत देने से इनकार कर दिया था। यशपाल गैंग ने कई ग्रामीणों के साथ धोखाधड़ी की और उनसे जबरन वसूली की। अब बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने मुकदमे की प्रगति की निगरानी करने के लिए जमानत पर सुनवाई 3 महीने बाद रखी है। और कहा है कि इस स्तर पर अदालत जमानत देने के लिए इच्छुक नहीं है। यशपाल तोमर की जमानत याचिका का विरोध पीड़ित ग्रामीणों में से एक मिंटू भाटी द्वारा किया जा रहा था। 

जनवरी 2022 में गिरफ्तार हुआ था यशपाल तोमर
एडवोकेट धनंजय जैन और शिकायतकर्ता प्रताप सिंह की ओर से एएस नाडकर्णी ने पैरवी की। वरिष्ठ वकील नाडकर्णी ने कहा है कि वे सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार सुनवाई में तेजी लाने के लिए ट्रायल कोर्ट से भी संपर्क करेंगे। आपको बता दें कि उत्तराखंड की स्पेशल टास्क फोर्स ने यशपाल तोमर को जनवरी 2022 में गिरफ़्तार किया था। वह तभी से जेल में है। एसटीएफ ने उसकी 153 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की थी। 

Also Read

दिल्ली के बेबी केयर सेंटर में भीषण आग, 7 नवजात की मौत, पांच गंभीर

26 May 2024 09:25 AM

नेशनल आज की सबसे दुखद खबर : दिल्ली के बेबी केयर सेंटर में भीषण आग, 7 नवजात की मौत, पांच गंभीर

दिल्ली के एक बेबी केयर सेंटर में शनिवार देर एक इस अग्निकांड से 12 बच्चों को निकाला गया। अग्निकांड से बाहर निकाले गए 12 में छह नवजात बच्चों ने दम तोड़ दिया। एक और नवजात का शव निकाला गया। कुल सात नवजात बच्चों की मौत हुई है। इसके अलावा पांच नवजात अस्पताल में भर्ती हैं। और पढ़ें