advertisements
advertisements

Prayagraj News : राम माधव ने कहा- आंबेडकर के बनाए संविधान की छत्रछाया में ही विकसित भारत के संकल्प को पूरा करेंगे

राम माधव ने  कहा- आंबेडकर के बनाए संविधान की छत्रछाया में ही विकसित भारत के संकल्प को पूरा करेंगे
UPT | मंच पर राम माधव

May 15, 2024 18:09

राम माधव ने प्रयागराज में कहा कि लोकसभा चुनाव में चार सौ के पार सीटें पाने वाले लोग बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के बनाए संविधान की छत्रछाया में ही विकसित भारत के संकल्प को पूरा करेंगे…

May 15, 2024 18:09

Short Highlights
  • राम माधव ने बताया कि सात सदस्यों की संविधान ड्राफ्टिंग कमेटी में से तब दो सदस्यों की मौत हो गई थी।
  • दो विदेश चले गए थे और दो सदस्य दक्षिण भारतीय थे, जो आते ही नहीं थे।
  • 18-18 घंटे लगकर अकेले बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर इस संविधान को तैयार किया था।
Prayagraj News : आरएसएस संघ के अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य राम माधव ने प्रयागराज में कहा कि लोकसभा चुनाव में चार सौ के पार सीटें पाने वाले लोग बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के बनाए संविधान की छत्रछाया में ही विकसित भारत के संकल्प को पूरा करेंगे। राधा माधव ने ये बातें सिविल लाइंस के बिशप जॉनसन इंटर कॉलेज परिसर में लोक जागरण मंच की ओर से आयोजित प्रबुद्ध नागरिक गोष्ठी में बतौर मुख्य वक्ता तौर पर शामिल होकर कहा।
 
 चुनाव को उत्सव की तरह मनाएं 
उन्होंने कहा कि लोक सभा चुनाव भी उत्सव के रूप में होना चाहिए। चुनाव आता है तो कई बार कटुता की बातें होने लगती हैं। लेकिन, हमें इस चुनाव को उत्सव के आनंद के रूप में लेना चाहिए। देश, समाज ही नहीं, वैश्विक स्तर पर व्यापक हित का ध्यान रखकर भी हमें मत का प्रयोग करना चाहिए।संविधान सभा के समय कहा गया था कि शिक्षित आबादी का प्रतिशत केवल 17 प्रतिशत है। सभी को वोट का अधिकार न दिया जाए, लेकिन 26 नवंबर 1949 को राजेंद्र बाबू ने कहा था कि सुदूर गांव में रहने वाले अति गरीब भी लोकतंत्र को गहरे से समझते हैं। इसलिए सबको वोट का अधिकार दीजिए। हमने पिछले 70 वर्षों में उसे सही साबित किया है। उन्होंने कहा कि दस वर्षों में कोई भ्रष्टाचार नहीं सुना गया। गरीबों को उनका पूरा अधिकार मिल रहा है।
 
 विपक्ष की बातों में न आएं
उन्होंने कहा कि विपक्ष के लोग मतदाताओं को गुमराह कर रहे हैं। लेकिन, उनकी बातों में न आएं। हमें दुनिया के सबसे बड़े और सफल लोकतंत्र के रूप में शत-प्रतिशत वोट कर उदाहरण प्रस्तुत करना चाहिए। उन्होंने कहा कि कहा कि राजा कालस्य कारणम यानी ऐसा राजा चुनना चाहिए जो देश को उच्च शिखर पर ले जाए और काल को बदल सके। कुछ लोग अफवाह उड़ा रहे हैं कि चार सौ पार जाने वाले संविधान को बदल देंगे। जबकि, इससे अच्छा संविधान दुनिया में किसी के पास नहीं है। उन्होंने पिछले 10 वर्षों में एक जिम्मेदार राजनीतिक संस्कृति के विकास को बड़ी उपलब्धि बताया।

आंबेडकर ने दिन-रात लग अकेले तैयार किया था संविधान 
राम माधव ने बताया कि सात सदस्यों की संविधान ड्राफ्टिंग कमेटी में से तब दो सदस्यों की मौत हो गई थी। दो विदेश चले गए थे और दो सदस्य दक्षिण भारतीय थे, जो आते ही नहीं थे। 18-18 घंटे लगकर अकेले बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर इस संविधान को तैयार किया था।

Also Read

शाम तक हिरासत में रखे गए रेवती रमन, आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

26 May 2024 01:55 PM

प्रयागराज मतदान केंद्र पर पूर्व सांसद की पुलिस से नोकझोंक : शाम तक हिरासत में रखे गए रेवती रमन, आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

प्रयागराज के करेली थाना क्षेत्र में पूर्व सांसद रेवती रमण सिंह शनिवार शाम मतदान केंद्र  पहुंच गए। रेवती रमण गठबंधन प्रत्याशी उज्जवल रमण के पिता हैं। अचानक मतदान केंद्र पहुंचने पर हंगामा खड़ा हो गया... और पढ़ें