advertisements
advertisements

ज्ञानवापी मामला : निचली अदालत में चल रहे मुकदमे की सुनवाई पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, जारी किया नोटिस

निचली अदालत में चल रहे मुकदमे की सुनवाई पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक, जारी किया नोटिस
UPT | ज्ञानवापी मामला

May 16, 2024 17:45

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने स्वयंभू भगवान विश्वेश्वर नाथ के प्राचीन मंदिर की भूमि को लेकर वाराणसी जिला जज के समक्ष विचाराधीन दीवानी मुकदमे की कार्यवाही पर रोक लगा दी है...

May 16, 2024 17:45

Prayagraj News : इलाहाबाद हाईकोर्ट ने स्वयंभू भगवान विश्वेश्वर नाथ के प्राचीन मंदिर की भूमि को लेकर वाराणसी जिला जज के समक्ष विचाराधीन दीवानी मुकदमे की कार्यवाही पर रोक लगा दी है। यह निर्णय विपक्षी शैलेन्द्र कुमार पाठक व्यास और दो अन्यों के खिलाफ नोटिस जारी कर जवाब मांगने के साथ आया है।

विपक्षी ने व्यवस्था की अधिकार से की मांग
हाईकोर्ट ने यह आदेश प्राचीन मूर्ति स्वयंभू भगवान विश्वेश्वर नाथ की पुनरीक्षण याचिका की सुनवाई करते हुए दिया है। याचिका में भगवान विश्वेश्वर नाथ ने निषेधात्मक वाद दाखिल किया है। जबकि विपक्षी ने भी मुकदमा करते हुए और व्यवस्था करने के अधिकार की मांग की है। तीनों ज्ञानवापी क्षेत्र के प्लॉट का प्रबंधन याचिका के पास है। जिसमें प्लॉट नंबर 9130, 9131, और 9132 शामिल हैं। जो कि भगवान के प्राचीन मंदिर वाली पुरानी चारदीवारी से घिरा हुआ है।

कई हिंदू देवी-देवताओं की मूर्तियां विधिवत दिखाई देती हैं इन प्लॉटों में
याचिका में दावा किया गया है कि इन प्लॉटों में चार मंडपों और उसके खंडहरों सहित विश्वेश्वर, ज्ञानकुम, मुक्तिमंडप नवनिर्मित, व्यास गद्दी, प्रतिमाएं श्री गंगेश्वर गंगा देवी, श्री हनुमान जी, नंदी, श्री गौरी शंकर, श्री गणेश जी, श्री महाकालेश्वर, श्री महेश्वर, श्रृंगार गौरी, श्री गणेश और कई हिंदू देवी-देवताओं की अन्य मूर्तियां विधिवत दिखाई देती हैं।

हस्तक्षेप की कोशिश की जा रही है इस पूरे परिसर में
तीन वृक्ष नंदी की मूर्ति के ऊपर हैं। नौबत खाना के ऊपर मंदिर के पूर्व की ओर उत्तरी द्वार एवं सेवकों का घर है। पूर्व में गोयनका का घर, गली से नेपाली खपरा, महंथ का घर परमानंद गिरि, हाउस ऑफ सीके 35/8 सोमनाथ व्यास है। पश्चिम में विश्वनाथ गली, बाबू लाल जैन का घर, जारवारी का घर और पुतलीवाला शिवाला राज राजेश्वर मंदिर और सिद्धजी का मठ उसके बाद विश्वनाथ लेन है। उत्तर में श्योदत्त राय धर्मशाला और अभय मुक्तेश्वर मंदिर, गेट और विश्वनाथ लेन है जबकि दक्षिण में रानी भवानी का शिव मंदिर, गणपत राय का सत्य नारायण मंदिर खेमका, अहिल्या द्वारा निर्मित भगवान विश्वनाथ मंदिर का स्वर्ण मंदिर राम शरण गोसाईं और केदार दीक्षित का बाई हाउस है। इस पूरे परिसर में हस्तक्षेप की कोशिश की जा रही है।

Also Read

शाम तक हिरासत में रखे गए रेवती रमन, आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

26 May 2024 01:55 PM

प्रयागराज मतदान केंद्र पर पूर्व सांसद की पुलिस से नोकझोंक : शाम तक हिरासत में रखे गए रेवती रमन, आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

प्रयागराज के करेली थाना क्षेत्र में पूर्व सांसद रेवती रमण सिंह शनिवार शाम मतदान केंद्र  पहुंच गए। रेवती रमण गठबंधन प्रत्याशी उज्जवल रमण के पिता हैं। अचानक मतदान केंद्र पहुंचने पर हंगामा खड़ा हो गया... और पढ़ें