advertisements
advertisements

Lok Sabha Elections 2024 : सपा का सितारा रहे रेवती रमण के बेटे कांग्रेस के लिए खेलेंगे सियासी पारी, जानिए कौन हैं उज्ज्वल रमण सिंह?

सपा का सितारा रहे रेवती रमण के बेटे कांग्रेस के लिए खेलेंगे सियासी पारी, जानिए कौन हैं उज्ज्वल रमण सिंह?
UPT | उज्जलव सिंह

Apr 02, 2024 13:34

समाजवादी पार्टी के संस्थापक सदस्यों में शामिल रहे कुंवर रेवती रमण सिंह के बेटे उज्ज्वल सिंह कांग्रेस का हाथ थामने जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, उज्ज्वल रमण इलाहाबाद सीट से चुनाव लड़ सकते हैं...

Apr 02, 2024 13:34

Short Highlights
  • कांग्रेस में शामिल होने जा रहे उज्जवल रमण सिंह
  • कुंवर रेवती रमण सिंह के बेटे हैं उज्जवल रमण सिंह
  • मुलायम सिंह यादव के करीबी थे रेवती रमण सिंह
Prayagraj News : समाजवादी पार्टी के संस्थापक सदस्यों में शामिल रहे कुंवर रेवती रमण सिंह के बेटे उज्ज्वल सिंह कांग्रेस का हाथ थामने जा रहे हैं। जानकारी के मुताबिक, उज्ज्वल रमण इलाहाबाद सीट से चुनाव लड़ सकते हैं। उज्ज्वल रमण सिंह ने खुद कांग्रेस में शामिल होने की पुष्टि की है। खबरों के मुताबिक, सपा नेता दिल्ली से कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करने की योजना को बदलकर अब लखनऊ से सदस्यता ग्रहण करेंगे। सपा मुखिया अखिलेश यादव और कुंवर रेवती रमण सिंह की सहमति पर उज्जवल रमण सिंह कांग्रेस में शामिल होने जा रहे हैं।

पहले से तय था इलाहाबाद सीट से चुनाव लड़ना
सपा ने कांग्रेस के साथ गठबंधन में समझौता करके इलाहाबाद सीट को कांग्रेस के खाते में दे दिया गया था। तभी से रेवती रमण सिंह की अखिलेश यादव से दूरी बढ़ गई थी। लेकिन जब रेवती रमण सिंह बीमार हुए तो कांग्रेस पार्टी के दो बड़े नेता कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व यूपी के प्रभारी अविनाश पांडेय और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय उनका हाल-चाल जानने अस्पताल पहुंचे। तभी से उज्ज्वल के कांग्रेस के टिकट पर इलाहाबाद लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की चर्चा तेज हो गई थी।

कांग्रेस में इसलिए शामिल हो रहे हैं उज्जवल रमण सिंह
समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री उज्जवल रमण सिंह का कांग्रेस में शामिल होने का कारण दोनों दलों के बीच का गंठबंधन है। 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए सपा और कांग्रेस में सीटों को लेकर समझौता हुआ था। इसमें कांग्रेस को 17 सीटें मिली हैं, जिसमें इलाहाबाद सीट भी है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की सहमति पर ही उज्जवल रमण सिंह कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं और इलाहाबाद सीट से चुनाव लड़ेंगे।

दो बार विधायक रह चुके हैं उज्जवल रमण सिंह
उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री उज्जवल रमण सिंह यूपी के करछना निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और समाजवादी पार्टी के सदस्य हैं। वह समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रेवती रमण सिंह के बेटे हैं। उज्जवल रमण सिंह भूमिहार ब्राह्मण समुदाय से हैं।  उज्जवल रमण सिंह साल 2004 में समाजवादी पार्टी के टिकट पर करछना से विधायक चुने गए थे क्योंकि उनके पिता ने सांसद बनने के बाद सीट छोड़ दी थी। साल 2017 के विधानसभा चुनाव में वह करछना से दोबारा विधायक चुने गए। उनकी जीत उनकी पार्टी के लिए महत्वपूर्ण थी क्योंकि वह इलाहाबाद और आसपास के निर्वाचन क्षेत्रों में समाजवादी पार्टी से जीतने वाले एकमात्र उम्मीदवार थे।

मुलायम सिंह यादव के करीबी थे रेवती रमण सिंह
कुंवर रेवती रमण सिंह अखिलेश यादव के पिता मुलायम सिंह यादव के करीबी माने जाते थे। कुंवर रेवती रमण सिंह अखिलेश यादव के पिता मुलायम सिंह के करीबी माने जाते थे। रेवती रमण सिंह ने अपने बयान में कहा था कि अखिलेश यादव सपा के वरिष्ठ नेताओं को तवज्जो नहीं देते हैं। यही वजह है कि सपा के वरिष्ठ नेता किनारा कर रहे हैं। रेवती रमण सिंह ने इलाहाबाद  सीट को कांग्रेस पार्टी को दिए जाने पर नाराजगी जताई थी। कुंवर रेवती रमण सिंह ने कहा था कि साल 1984 के बाद कांग्रेस यहां से नहीं जीती है फिर भी अखिलेश यादव ने इस सीट को कांग्रेस को दे दिया है।

Also Read

तस्वीरें निकालकर महिलाओं को करता था परेशान, निशाने पर थे हाईप्रोफाइल परिवार

18 Apr 2024 02:37 PM

प्रयागराज पुलिस के हत्थे चढ़ा 'बमबाज' ब्लैकमेलर : तस्वीरें निकालकर महिलाओं को करता था परेशान, निशाने पर थे हाईप्रोफाइल परिवार

प्रयागराज जिले से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। जहां प्रयागराज कमिश्नरेट पुलिस ने एक ऐसे शातिर को गिरफ्तार किया है जो हाईप्रोफाइल महिलाओं को अपना निशाना बनाता था। उन्हें ब्लैकमेल करके वसूली करता था। महिलाओं को गलत तरीके से डराता और धमकाता था। जब कोई महिला या उसका परिवार... और पढ़ें