advertisements
advertisements

आगरा पुलिस की कार्रवाई : फर्जी जमानती बनने वाले गिरोह का सदस्य दबोचा, जानिए कैसे करता था फर्जीवाड़ा

फर्जी जमानती बनने वाले गिरोह का सदस्य दबोचा, जानिए कैसे करता था फर्जीवाड़ा
UPT | पुलिस गिरफ्त में आरोपी

May 17, 2024 01:46

थाना सदर पुलिस और एसटीएफ यूनिट को बड़ी सफलता हाथ लगी है। थाना पुलिस और एसटीएफ यूनिट ने मिलकर कूटरचित दस्तावेज तैयार कर...

May 17, 2024 01:46

Agra News  (Pradeep Kumar Rawat) : थाना सदर पुलिस और एसटीएफ यूनिट को बड़ी सफलता हाथ लगी है। थाना पुलिस और एसटीएफ यूनिट ने मिलकर कूटरचित दस्तावेज तैयार कर फर्जी जमानतदार बनने वाले गिरोह के एक और सदस्य को गिरफ्तार किया है। थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई को अंजाम देकर जेल भेज दिया है।

विशेष अभियान चलाकर उनकी धरपकड़ शुरू
कुछ लोग निजी स्वार्थ के लिए अपराधियों के फर्जी जमानती बनकर उनकी जमानत दिया करते थे। यह लोग पैसे लेकर उनके फर्जी जमानतदारी बनते थे। इनके सहयोग से अपराधी आसानी से छूट जाते थे। जमानत पर बाहर आने के बाद फिर पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाते थे, क्योंकि फर्जी जमानत दिए जाने से ना तो जमानत देने वाला मिलता था और न ही अपराधी। जिसको लेकर आगरा पुलिस ने सख्त रवैया अपना लिया था। पुलिस ने ऐसे फर्जी जमानतियों के खिलाफ विशेष अभियान चलाकर उनकी धरपकड़ शुरू कर दी थी।

कुछ दिनो पहले पकड़े थे सात आरोपी
पिछले दिनों सदर थाना पुलिस और एसटीएफ ने मिलकर ऐसे सात लोगों को गिरफ्तार किया था, जो अपराधियों की फर्जी जमानत दिया करते थे। यह सभी लोग फर्जी एफिडेविट, आधार कार्ड और अन्य जरूरी फर्जी डॉक्यूमेंट दिया करते थे। इनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर इनको जेल भेज दिया था, लेकिन इस गिरोह के बाकी सदस्यों की धर पकड़ की जा रही थी। बुधवार को इस गिरोह के एक ओर सदस्य को थाना सदर बाजार पुलिस टीम एवं एसटीएफ यूनिट ने गिरफ्तार किया और जेल भेज दिया।

Also Read

आगरा रेल डिवीजन में गतिमान और मालवा एक्सप्रेस के लोको पायलट एवं सहायक से बड़ी चूक, हो सकता था बड़ा हादसा

25 May 2024 03:23 AM

आगरा Agra News : आगरा रेल डिवीजन में गतिमान और मालवा एक्सप्रेस के लोको पायलट एवं सहायक से बड़ी चूक, हो सकता था बड़ा हादसा

भारतीय रेलवे लगातार ट्रेनों की रफ़्तार बढ़ाने को लेकर काम कर रहा है। गतिमान एक्सप्रेस देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन है, जिसे पहले आगरा और नई दिल्ली के बीच दौड़ाया गया बाद में इसका विस्तार झांसी तक किया गया.. और पढ़ें