advertisements
advertisements

Gorakhpur News : DDU यूनिवर्सिटी में नए एचडी प्रोग्राम को कुलाधिपति की मंजूरी, जानें प्रवेश प्रक्रिया...

DDU यूनिवर्सिटी में नए एचडी प्रोग्राम को कुलाधिपति की मंजूरी, जानें प्रवेश प्रक्रिया...
UPT | गोरखपुर यूनिवर्सिटी।

Apr 02, 2024 15:38

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के नए पीएचडी अध्यादेश 2024 को कुलाधिपति/राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने अनुमोदित कर दिया है। कुलपति प्रो. पूनम टंडन ने बताया कि विश्वविद्यालय...

Apr 02, 2024 15:38

Gorakhpur News : दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के नए पीएचडी अध्यादेश 2024 को कुलाधिपति/राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने अनुमोदित कर दिया है। कुलपति प्रो. पूनम टंडन ने बताया कि विश्वविद्यालय जल्द ही नए नियमों के तहत पीएचडी प्रोग्राम के लिए प्रवेश की प्रक्रिया को शुरू करेगा। विश्वविद्यालय के नए पीएचडी अध्यादेश में यूजीसी पीएचडी नियम 2022 शामिल है। इसका उद्देश्य पीएचडी प्रवेश और अनुसंधान प्रक्रिया को सुव्यवस्थित करना है। कुलप​ति ने बताया कि नया एचडी अध्यादेश सभी वर्गों की पीएचडी छात्रों को बेहतर विकल्प प्रदान करेगा। अनुसंधान उत्कृष्ट को बढ़ावा देगा। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय जल्द ही नए नियम के तहत पीएचडी प्रोग्राम के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू कर देगा।

नए अध्यादेश की मुख्य विशेषताएं
  • जिन छात्रों ने चार साल की स्नातक डिग्री पूरी कर ली है, वे स्नातकोत्तर डिग्री की आवश्यकता के बिना सीधे पीएचडी कार्यक्रम में नामांकन कर सकते हैं।
  • जेआरएफ और नेट उत्तीर्ण छात्रों को प्रवेश प्रक्रिया के दौरान वेटेज मिलेगा।
  • पीएचडी पाठ्यक्रम शुरू होने से पहले पीएचडी पर्यवेक्षकों को नियुक्त किया जाएगा।
  • विदेशी छात्रों को पीएचडी प्रवेश परीक्षा से छूट दी गई है और वे अतिरिक्त सीटों पर सीधे प्रवेश सुरक्षित कर सकते हैं।
  • स्नातक शिक्षक पर्यवेक्षक बन सकते हैं।
  • संविदा शिक्षक सह-पर्यवेक्षक बन सकते हैं।
  • महिला और दिव्यांगजन छात्रों के लिए विशेष प्रावधान।
  • थीसिस जमा करने से लेकर थीसिस अवार्ड तक की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन आयोजित की जाएगी और अधिकतम छह महीने के भीतर पूरी की जाएगी।
  • कामकाजी पेशेवरों के लिए अंशकालिक पीएचडी का प्रावधान है।
  • यदि कोई छात्र पीएचडी के दौरान नौकरी ज्वाइन करता है तो नियमित से अंशकालिक पीएचडी में परिवर्तित करने का विकल्प दिया गया है।
  • डॉक्टोरल रिसर्च कमेटी (डीआरसी) द्वारा छात्रों की कार्य प्रगति की नियमित निगरानी की जाएगी।
  • क्रेडिट पीएचडी कोर्स वर्क में अनुसंधान पद्धति और अनुसंधान नैतिकता पर अनिवार्य पेपर का प्रावधान है।
  • पीएचडी थीसिस अवार्ड की तारीख पीएचडी मौखिक परीक्षा की तारीख होगी। पीएचडी प्रवेश अनुसंधान प्रवेश परीक्षा (आरईटी) के माध्यम से होगा।
  • विश्वविद्यालय से संबद्ध यूजी कॉलेजों के कॉलेज शिक्षकों को भी पीएचडी पर्यवेक्षक के रूप में मान्यता दी जाएगी।
  • शोध की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान और थीसिस को प्रस्तुत करने से पहले साहित्यिक चोरी जांच समिति से मंजूरी की आवश्यकता होती है।

Also Read

सॉल्वर को सीट तक पहुंचाने में मददगार को किया गया गिरफ्तार

18 Apr 2024 06:40 PM

गोरखपुर पुलिस भर्ती परीक्षा मामले में एसटीएफ को मिली बड़ी सफलता : सॉल्वर को सीट तक पहुंचाने में मददगार को किया गया गिरफ्तार

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि एक अभ्यर्थी के बदले उसे 5 से 10 लाख रुपये मिलते थे। इसकी ही मदद से एक अभ्यर्थी दुर्गेश यादव दिग्विजयनाथ डिग्री कॉलेज गेट पर गार्ड की ड्यूटी करते हुए भी पकड़ा गया था। और पढ़ें