Maharajganj News : एसएसबी और पुलिस की संयुक्त टीम ने नशीले इंजेक्शन के साथ दो तस्करों को किया गिरफ्तार, पुलिस ने दोनों को भेजा जेल

एसएसबी और पुलिस की संयुक्त टीम ने नशीले इंजेक्शन के साथ दो तस्करों को किया गिरफ्तार, पुलिस ने दोनों को भेजा जेल
UPT | नशीले इंजेक्शनों के साथ अपराधी पुलिस की गिरफ्त में

Jun 10, 2024 17:44

एसएसबी और पुलिस की संयुक्त टीम ने नशीले इंजेक्शन के साथ दो तस्करों को किया गिरफ्तार, पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दोनों को भेजा जेल…

Jun 10, 2024 17:44

Maharajganj News : खबर जनपद महराजगंज से है जहां एसएसबी और पुलिस की संयुक्त टीम ने एक बार फिर बड़ी मात्रा में नशीले इंजेक्शनों की बरामदगी की है। बरामद नशीले इंजेक्शन को तस्कर पड़ोसी देश नेपाल भेजने के फिराक में थे। इंडो नेपाल बॉर्डर पर एसएसबी और पुलिस की संयुक्त टीम जांच पड़ताल में जुटी थी। इसी बीच एक मारुति कार दिखाई दी जब मारुती कार को रोक कर तलाशी ली गई तो, कार में भारी मात्रा में नशीले इंजेक्शन की खेप छिपाकर रखा गया था, पुलिस ने कार में सवार दोनों तस्करों को हिरासत में लेते हुए कार को जब्त कर लिया और एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दोनों अभियुक्तों को जेल भेज दिया।

एसएसबी और पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा बरामदगी का विवरण
कार को रोककर तलाशी ली गई तो उसमें 499 एम्पुल डायजापाम इंजेक्शन, 523 एम्पुल ब्यूपरनार्फीम इंजेक्शन, 500 प्रोमेन्थोजाइन इंजेक्शन, 484 एनआरएक्स ब्यूनर्फिन इंजेक्शन का रैपर तथा दो अदद मोबाइल हैंडसेट, एक अदद एनएसडीएल पेमेंट बैंक एटीम व 140 रुपये नगद बरामद किए। 

गिरफ्तार दोनों तस्करों की पहचान 
गिरफ्तार किए गए दोनों युवकों की पहचान सन्नी जायसवाल पुत्र अजय जायसवाल निवासी नगर पंचायत पीपीगंज, वार्ड नंबर 3, आजादनगर, गोरखपुर एवं इरशाद अली पुत्र स्व. आबिद अली निवासी सड़कहवा,थाना ठूठीबारी के रूप में हुई है। 

क्या कहतें है थानाध्यक्ष 
इस मामले में थानाध्यक्ष बरगदवा स्वतंत्र देव सिंह ने दोनों अभियुक्तों के विरुद्ध एनडीपीएस एक्ट सहित कई धाराओं में केस दर्ज किया है। पूछताछ करने के बाद दोनों युवकों को जेल भेज दिया गया है। 

नेपाल के सीमावर्ती इलाकों में खपाई जाती हैं अवैध नशीली दवाएं 
पिछले 3 वर्षों में बरामद हुई अवैध नशीली दवाओं का आंकड़ा यह स्पष्ट करता है कि यहां भारत व नेपाल के सीमावर्ती इलाकों में डिमांड अधिक बढ़ी है। युवाओं को नशे के जाल में फसाने के लिए ड्रग माफिया सस्ते में अवैध प्रतिबंधित दवाओं का कारोबार इन इलाकों में करते हैं। तस्करी के दौरान पकड़ी गई अवैध नशीली दवाओं में ज्यादातर इंजेक्शन डायाजापाम, सेराजेक, न्यूफिन जबकि सिरप में कोल्ड्रिन, वोनरिक्स, कोरेक्स, एल्कोस और टेबलेट में लप्राजोलम, टॉक्सिविन, नाइट्राइजपम दवाओं की बरामदगी हुई है। 

84 किमी की खुली सीमा सुरक्षाबलों के लिए बड़ी चुनौती 
महराजगंज में भारत नेपाल की 84 किमी की खुली सीमा लगती है। यहां पर एसएसबी व पुलिस के साथ कई सुरक्षा एजेंसियों की कड़ी नजर होती है। बावजूद इसके ड्रग तस्कर पगडंडियों से नेपाल में ड्रग की तस्करी करते हैं। ड्रग तस्कर बड़े ही आसानी से यहां सीमावर्ती इलाकों में बने गोदामों में पहुंचाते हैं और सुरक्षाबलों के आंखों में धूल झोंककर पगडंडियों के सहारे नेपाल में भेजते हैं।

Also Read

सरसंघचालक की उपस्थिति में स्वयंसेवकों ने किया पथसंचलन, जगह-जगह लोगों ने पुष्पवर्षा से किया स्वागत 

15 Jun 2024 12:24 AM

गोरखपुर Gorakhpur News : सरसंघचालक की उपस्थिति में स्वयंसेवकों ने किया पथसंचलन, जगह-जगह लोगों ने पुष्पवर्षा से किया स्वागत 

शुक्रवार को शाम छह बजे सरस्वती विद्या मंदिर चिउटहा मानीराम से पथसंचलन प्रारंभ हुआ। स्कूल के बाहर एक मंच पर सरसंघचालक मोहन भागवत व सर्वाधिकारी प्रो. राधाकृष्णपाल सिंह मंच पर मौजूद थे। अनुशासनबद्ध होकर स्वयंसेवक पथसंचलन करते हुए मंच के सामने से गुजरे तो सरसंघचालक व सर्वाधिकारी ख... और पढ़ें