advertisements
advertisements

इंसानियत शर्मसार : मेरठ के सरधना सीएचसी के खुले परिसर में दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने मृत बच्चे को दिया जन्म, सोते रहे जिम्मेदार

मेरठ के सरधना सीएचसी के खुले परिसर में दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने मृत बच्चे को दिया जन्म, सोते रहे जिम्मेदार
UPT | मेरठ की सरधना सीएचसी में खुले परिसर में दुष्कर्म पीड़िता ने बच्चे को दिया जन्म।

May 24, 2024 21:10

स्वास्थ्य कर्मचारी डयूट पर थे वो आराम से सोते रहे। रात भर दर्द से चींखती और कराहती दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने सीएचसी सरधना के परिसर...

May 24, 2024 21:10

Short Highlights
  • सरधना सीएचसी में रात में तैनात स्वास्थ्य कर्मी एसी में सोते रहे
  • मेरठ सीएमओ ने भी पूरे मामले में पल्ला झाड़ा, नहीं की कार्रवाई
  • मृत बच्चे को जन्म ​देने वाली दुष्कर्म पीड़िता को जिला अस्पताल किया रेफर 
Meerut News : मेरठ के सरधना में एक बार फिर से मानवता शर्मसार हो गई। जिनको धरती के भगवान का दर्जा दिया जाता है। वहीं आंख बंदकर सोते रहे और गर्भवती दुष्कर्म पीड़िता दर्द से सीएचसी सरधना में कराहती रही। सीएचसी सरधना में डयूटी पर तैनात कोई भी चिकित्सक मौके पर नहीं पहुंचा। जो स्वास्थ्य कर्मचारी डयूट पर थे वो आराम से सोते रहे। रात भर दर्द से चींखती और कराहती दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने सीएचसी सरधना के परिसर में मृत बच्चे को जन्म दिया।

खून से लथपथ दुष्कर्म पीड़िता के दर्द से किसी का दिल नहीं पसीजा। किशोरी की हालत बिगड़ने पर थाना पुलिस सीएचसी पहुंची और स्वास्थ्य कर्मचारियों को लापरवाही पर लताड़ लगाई। इसी के साथ ही स्वास्थ्य विभाग की इस लापरवाही से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया।

आठ माह की दुष्कर्म पीड़िता की हालत बिगड़ने पर
थाना सरधना क्षेत्र के एक गांव में आठ माह की दुष्कर्म पीड़िता की हालत बिगड़ने पर परिजन उसको सरधना सीएचसी ले गए। सीएचसी में स्वास्थ्य कर्मियों ने दुष्कर्म पीड़िता गर्भवती को भर्ती करने से मना कर दिया। इसके बाद कर्मचारी एसी के में आराम से सोने चले गए। उधर, पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।

वहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया
पीड़िता को कई घंटे बाद भर्ती कराया और फिर वहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया। फिलहाल पीड़िता की हालत गंभीर है। बताया गया कि आरोपी पिछले कई माह से किशोरी के साथ दुष्कर्म कर रहा था और उसका वीडियो बनाकर ब्लैकमेल कर रहा था। इस पूरे प्रकरण में सीएमओ मेरठ ​डॉ. अखिलेश मोहन का कहना था कि उनके संज्ञान में मामला आया है। इसकी जांच करवाई जाएगी। जो भी जिम्मेदार होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

Also Read

पंजाबी समाज ने निर्जला एकादशी पर गुरु अर्जनदेव का मनाया शहीदी दिवस

13 Jun 2024 06:05 PM

मेरठ Noida News : पंजाबी समाज ने निर्जला एकादशी पर गुरु अर्जनदेव का मनाया शहीदी दिवस

ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की निर्जला एकादशी हिंदू धर्म में बहुत महत्वपूर्ण मानी जाती है। नोएडा में हिंदू और सिख समुदाय ने बुधवार को निर्जला एकादशी और गुरु अर्जुन देव जी के शहीदी दिवस को साथ मनाया... और पढ़ें