advertisements
advertisements

Ghaziabad News : छुट्टा पशुओं से मुक्ति दिलवाएगा सेक्स सॉर्टेड सीमन

छुट्टा पशुओं से मुक्ति दिलवाएगा सेक्स सॉर्टेड सीमन
UPT | सेक्स सॉर्टेड सीमन से कृत्रिम गर्भाधान कराने पर जोर

Jun 11, 2024 03:29

इस विधि से सिर्फ बछिया पैदा हो सकेंगी। बीते एक साल में जिले में करीब तीन हजार गायों के गर्भाधान का लक्ष्य था। लेकिन इसके लिए अधिकाश पशुपालक ही राजी हुए हैं। यह निर्धारित लक्ष्य का 80 प्रतिशत रहा

Jun 11, 2024 03:29

Short Highlights
  • एक साल में तीन हजार गायों के गर्भाधान का लक्ष्य
  • छुट्टा पशुओं से मुक्ति के लिए सरकार की योजना
  • पशुपालकों को सिर्फ 100 रुपए में मिलेगा सेक्स सॉर्टेड सीमन
Ghaziabad News : यूपी में छुटटा पशुओं की परेशानी दूर करने के लिए सरकार अब सेक्स सॉर्टेड सीमन से कृत्रिम गर्भाधान कराने पर जोर दे रही है। इस विधि से सिर्फ बछिया पैदा हो सकेंगी। बीते एक साल में जिले में करीब तीन हजार गायों के गर्भाधान का लक्ष्य था। लेकिन इसके लिए अधिकाश पशुपालक ही राजी हुए हैं। यह निर्धारित लक्ष्य का 80 प्रतिशत रहा है।

सरकार अधिक से अधिक बछिया पैदा करवाने पर जोर दे रही
बता दें छुटटा पशुओं में सर्वाधिक सांड हैं। इससे समस्या से मुक्ति दिलाने के लिए सरकार का सबसे अधिक जोर मादा गौवंश पैदा करवाने पर है। यह सेक्स सॉर्टेड सीमन से संभव है। इसके लिए पशु चिकित्सक गांव में जाकर पशुपालकों को इसके लिए जागरूक कर रहे हैं। सेक्स सॉर्टेड सीमन की डोज पशु पालकों को उपलब्ध कराई जा रही है।

सेक्स सॉर्टेड सीमन की कीमत 300 रुपए
मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. एसपी पांडे ने बताया कि सेक्स सॉर्टेड सीमन की कीमत 300 रुपए है। लेकिन सरकार इसे पशुपालकों को 100 रुपए में उपलब्ध करा रही है। इससे गर्भाधान कराने पर बछिया पैदा होने की संभावना 90 प्रतिशत तक रहती है। इससे पशुपालकों को भी लाभ होता है। गायों की संख्या बढ़ने से दूध के उत्पादन में वृद्धि होती है।

सीमेन से वाई क्रोमोजोम खत्म कर एक्स एक्स से गर्भाधान
गाजियाबाद के पूर्व पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. महेश कुमार ने सेक्स सॉर्टेड सीमन के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि सेक्स सॉर्टेड सीमन से बछिया पैदा होने की संभावना 90 प्रतिशत रहती है। उन्होंने बताया कि सीमन के अंदर क्रोमोजोम होते हैं। ये क्रोमोजोम एक्स और वाई के रूप में सीमन में उपस्थित रहते हैं।

गर्भाधान के समय एक्स से एक्स क्रोमोजोम मिलने पर बछिया पैदा होती है
गर्भाधान के समय एक्स से एक्स क्रोमोजोम मिलने पर बछिया पैदा होती है। जबकि एक्स और वाई क्रोमोजोम मिलने पर बछड़ा पैदा होता है। उन्होंने कहा कि सेक्स सॉर्टेड सीमन के अंदर से अल्ट्रा वायलेट रेज के जरिए वाई क्रोमोजोम को खत्म कर दिया जाता है। जिससे उनमें एक्स क्रोमोजोम ही रहता है।

Also Read

पंजाबी समाज ने निर्जला एकादशी पर गुरु अर्जनदेव का मनाया शहीदी दिवस

13 Jun 2024 06:05 PM

मेरठ Noida News : पंजाबी समाज ने निर्जला एकादशी पर गुरु अर्जनदेव का मनाया शहीदी दिवस

ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की निर्जला एकादशी हिंदू धर्म में बहुत महत्वपूर्ण मानी जाती है। नोएडा में हिंदू और सिख समुदाय ने बुधवार को निर्जला एकादशी और गुरु अर्जुन देव जी के शहीदी दिवस को साथ मनाया... और पढ़ें