advertisements
advertisements

हापुड़ में साइबर क्राइम : बातों में उलझाकर लगाया 1.22 लाख का चूना, आप भी हो सकते हैं शिकार...

बातों में उलझाकर लगाया 1.22 लाख का चूना, आप भी हो सकते हैं शिकार...
UPT | प्रतीकात्मक फोटो

Apr 02, 2024 14:48

जिले में साइबर ठग तरह-तरह के तरिके अपना कर लोगों के साथ ठगी की घटना को अंजाम दे रहे है। हालांकि पुलिस प्रशासन लोगों को समय समय पर साइबर अपराध को लेकर जागरूक अभियान चलाती रहती है...

Apr 02, 2024 14:48

Hapur News (Shahrukh Khan) : जिले में साइबर ठग तरह-तरह के तरीके अपनाकर लोगों के साथ ठगी की घटना को अंजाम दे रहे हैं। हालांकि पुलिस प्रशासन लोगों को समय समय पर साइबर अपराध को लेकर जागरूकता अभियान चलाती रहती है। मगर, साइबर अपराधी लोगों को अपनी बातों में उलझाकर ठगी की घटना को अंजाम दे देते हैं। जिले में अब एक साइबर ठग ने बातों में उलझाकर एक महिला के खाते से 1 लाख 22 हजार रुपये निकाल लिए। रुपये कटने का मैसेज आने पर पीड़िता को ठगी की जानकारी हुई। इस मामले में पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

बातों में उलझाकर पूछा ओटीपी नंबर 
जानकारी के अनुसार, पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला मंडी निवासी पीड़िता अलका महेश्वरी ने मुकदमा दर्ज कराते हुए बताया कि उसका खाता सेन्ट्रल बैंक आफ इंडिया पिलखुवा में है। बताया गया है कि कुछ माह पहले उनके पास एक अंजान नंबर से फोन कॉल आई। इस दौरान फोन करने वाले ने उन्हे अपनी बातों में उलझा लिया और धोखधड़ी से ओटीपी नंबर पूछ लिया। बताया गया है कि इसके बाद उनके खाते से 4,998 रुपये, 10.000, 99.867 और 7100 रुपये निकाल लिए गए। यह धनराशि चार बार में उनके खाते से निकाली गई है। उनका कहना है कि उन्होंने शाखा प्रबंधक को प्रार्थना पत्र दिया था, मगर इसके बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। जिसके बाद उन्होंने इस मामले में अब मुकदमा दर्ज कराया है।

पुलिस ने शुरू की मामले की जांच 
इस मामले में पिलखुवा कोतवाली पुलिस का कहना है कि पीड़ित महिला की तहरीर पर शातिर ठगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामला साइबर क्राइम से जुड़ा है। जल्द ही शातिरों को गिरफ्तार कर मामले का पर्दाफाश कर दिया जाएगा।

ठगी होने पर इस नंबर पर करें शिकायत 
जिले में इस घटना से पहले भी साइबर अपराध के मामले सामने आए हैं। पुलिस ने घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए उनका खुलासा भी किया है और अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजा है। साइबर ठगी को लेकर पुलिस प्रशासन काफी अलर्ट है। समय-समय पर लोगों को साइबर अपराध से बचने के लिए जानकारी भी दी जाती है। अगर आप कभी साइबर अपराध के शिकार हो जाएं तो तुरंत 1930 नंबर डायल करें। इस नंबर पर उस नंबर से कॉल करें, जिससे आपका (UPI ID) या बैंक अकाउंट लिंक हो। ये बताया गया है कि यह नंबर सिटिजन फाइनेंशियल साइबर फ्रॉड रिपोर्टिंग एंड मैनेजमेंट सिस्टम से जुड़ा है। इस नंबर पर कॉल करने से आपको फ्रॉड से जुड़ी जानकारियां मांगी जाएगी।

बचने के लिए ये बरतें सावधानी
साइबर अपराध से बचने के लिए सावधान रहना जरूरी है। पुलिस भी लगातार लोगों को साइबर अपराध से बचाने के लिए जागरूकता अभियान चलाती है, ताकि लोगों को इसके बारे में पूरी जानकारी हो सके।
  • अंजान नंबर से आने वाले फोन से सतर्क रहें। किसी भी अंजान व्यक्ति को ओटीपी या बैंक संबंधी जानकारी ना दें।
  • यदि कोई व्यक्ति बैंक कर्मचारी बनकर ओटीपी या अन्य पर्सनल जानकारी मांगता है तो सावधान हो जाएं। बैंक कभी भी ओटीपी नहीं पूछता है।
  • सोशल मीडिया पर अंजान लोगों द्वारा भेजी गई फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार करने से बचें।
  • सिम कार्ड केवाईसी के नाम पर ओटीपी पूछने वालों से सावधान रहें।
  • क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड की जानकारी अंजान लोगों को देने से बचें।
  • किसी अंजान नंबर से भेजे गए मैसेज में दिए गए लिंक को ना खोलें।

Also Read

निधि रानी ने 12वीं में और तानिष ने 10वीं में किया टॉप, गौतमबुद्ध नगर में दौड़ी खुशी की लहर

20 Apr 2024 07:50 PM

गौतमबुद्ध नगर UP board result 2024 : निधि रानी ने 12वीं में और तानिष ने 10वीं में किया टॉप, गौतमबुद्ध नगर में दौड़ी खुशी की लहर

यूपी बोर्ड ने एग्जाम के सिर्फ 41 दिनों के बाद ही रिजल्ट जारी कर दिया है। 10वीं कक्षा में दनकौर गांव के एसडीएस इंटर कॉलेज के छात्र तानिष ने 600 में से 575 अंक प्राप्त करके 95.83% अंक हासिल किए और जिले में टॉप किया... और पढ़ें