advertisements
advertisements

Meerut News : हत्या के मामले में जेल में बंद कैदी की उपचार के दौरान मेरठ मेडिकल में मौत

हत्या के मामले में जेल में बंद कैदी की उपचार के दौरान मेरठ मेडिकल में मौत
UPT |

May 16, 2024 14:24

कोर्ट में केस की सुनवाई शुरू होने के बाद चार दिसंबर, 2018 को जिला जज न्यायालय ने रईसुद्दीन को सात साल कैद की सजा सुनाई थी। इसके अलावा रईसुद्दीन पर दस हजार रुपए अर्थदंड लगाया गया...

May 16, 2024 14:24

Short Highlights
  • हत्या के मामले में कोर्ट से हुई थी सात साल की सजा
  • गैर इरादतन हत्या से जुड़े मामले में पुलिस ने किया था गिरफ्तार
  • बंदी कैदी की रिपोर्ट जेल प्रशासन ने शासन को भेजी
Meerut : मेरठ मेडिकल कालेज में भर्ती बंदी कैदी की उपचार के दौरान मौत हो गई है। कैंदी की मौत की जानकारी मेडिकल प्रशासन ने जेल प्रशासन को दी। जिसके बाद जेल प्रशासन ने पूरे मामले की रिपोर्ट शासन को भेज ​दी है। मेरठ थाना ब्रह्मपुरी क्षेत्र के पूर्वा इलाही बख्श निवासी रईसुद्दीन (66) पुत्र मंगत को गैर इरादतन हत्या से जुड़े एक मामले में कुछ साल पहले पुलिस ने गिरफ्तार किया था। कोर्ट में केस की सुनवाई शुरू होने के बाद चार दिसंबर, 2018 को जिला जज न्यायालय ने रईसुद्दीन को सात साल कैद की सजा सुनाई थी। इसके अलावा रईसुद्दीन पर दस हजार रुपए अर्थदंड लगाया गया था। उसके बाद से रईसुद्दीन जिला कारागार में सजा काट रहा था।

11 मई को रईसुद्दीन की हालत अचानक बिगड़ गयी
जेल सुपरिटेंडेंट शशिकांत मिश्रा ने बताया कि रईसुद्दीन को काफी समय से टीबी थी। उसका उपचार मेरठ मेडिकल कालेज में चल रहा था। 11 मई को रईसुद्दीन की हालत अचानक बिगड़ गयी। जेल चिकित्सालय ने रईसुद्दीन को मेडिकल अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। आधी रात को उसकी हालत बिगड़ी और उसने दम तोड़ दिया। 

जानकारी मेडिकल प्रशासन ने जेल के अधिकारी को दी
रईसुद्दीन की मौत की जानकारी मेडिकल प्रशासन ने जेल के अधिकारी को दी। जिसके बाद जेल अधीक्षक सहित जेल चिकित्सालय के डाक्टर भी मेडिकल कॉलेज पहुंचे। उन्होंने मेडिकल कालेज के चिकित्सकों से जानकारी ली। इसके बाद जेल प्रशासन ने रईसुद्दीन के परिवार को उसके मृत होने की जानकारी दी। 
 

Also Read

मेरठ के सरधना सीएचसी के खुले परिसर में दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने मृत बच्चे को दिया जन्म, सोते रहे जिम्मेदार

24 May 2024 09:10 PM

मेरठ इंसानियत शर्मसार : मेरठ के सरधना सीएचसी के खुले परिसर में दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने मृत बच्चे को दिया जन्म, सोते रहे जिम्मेदार

स्वास्थ्य कर्मचारी डयूट पर थे वो आराम से सोते रहे। रात भर दर्द से चींखती और कराहती दुष्कर्म पीड़िता किशोरी ने सीएचसी सरधना के परिसर... और पढ़ें