Rampur News : सेवक कार्यालय पर आयोजित किया गया कार्यक्रम, 40 बेटियों को वितरित की गई साइकिल

सेवक कार्यालय पर आयोजित किया गया कार्यक्रम, 40 बेटियों को वितरित की गई साइकिल
UPT | 40 बेटियों को वितरित की गई साइकिल।

Jun 11, 2024 02:55

सोमवार को महाराष्ट्र की कंपनी केनरा रूबिको के चीफ इन्वेस्टमेंट ऑफीसर श्रीदत्त भांडवलदार और एचआर हेड उपासना साहू रामपुर पहुंचे। इसके बाद कृष्णा विहार स्थित रामपुर सेवक कार्यालय पर साइकिल वितरण कार्यक्रम...

Jun 11, 2024 02:55

Short Highlights
  • अब स्कूल-कालेज पैदल नहीं जाएंगी बेटियां : आकाश
  • केनरा रूबिको कंपनी की ओर से शहर विधायक आकाश सक्सेना ने वितरित कीं साइकिल
Rampur News : गांव और गरीब की बेटियां भी साइकिल पर सवार होकर स्कूल-कॉलेज जाएंगी। इसके लिए केनरा रूबिको कंपनी की ओर से रामपुर की 40 बेटियों को साइकिल वितरित की गईं। साइकिल मिलते ही बेटियों के चेहरे खिल उठे। शहर विधायक आकाश सक्सेना ने कहा कि इन साइकिल की मदद से बेटियां आसानी से स्कूल कॉलेज पहुंच सकेंगी। उन्हें उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

सेवक कार्यालय पर साइकिल वितरण कार्यक्रम का आयोजन
सोमवार को महाराष्ट्र की कंपनी केनरा रूबिको के चीफ इन्वेस्टमेंट ऑफिसर श्रीदत्त भांडवलदार और एचआर हेड उपासना साहू रामपुर पहुंचे। इसके बाद कृष्णा विहार स्थित रामपुर सेवक कार्यालय पर साइकिल वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि शहर विधायक आकाश सक्सेना शामिल हुए। उन्होंने बेटियों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकार के साथ ही बड़ी-बड़ी कंपनियां सामाजिक उन्नति के लिए कार्य कर रही हैं। केनरा रूबिको भी ऐसी ही कंपनी है, जो सामाजिक सराकारों को ध्यान में रखते हुए समाज के सशक्तिकरण के लिए कार्य कर रही है।

40 बेटियों को साइकिल वितरित
उन्होंने कहा कि शिक्षा के बिना समाज को सशक्त नहीं किया जा सकता। ऐसे में सुविधाओं का अभाव झेल रही बेटियों को यदि संसाधन मिल जाएं, तो वह पूरे समाज के लिए लाभकारी सिद्ध हो सकता है। उन्होंने 40 बेटियों को साइकिल वितरित कीं। कंपनी की ओर से आए श्रीदत्त भांडवलदार ने कंपनी के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस मौके पर दीपक खंडेलवाल सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

Also Read

गुलदार के आतंक से ग्रामीण परेशान,  गांव में कोई नहीं सुरक्षित

14 Jun 2024 07:39 PM

बिजनौर Bijnor News : गुलदार के आतंक से ग्रामीण परेशान, गांव में कोई नहीं सुरक्षित

मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने मिलकर गुलदार को भगाने का प्रयास किया। गुलदार कुछ ही दूरी पर स्थित बाजरे के खेत में चला गया। इसके बाद सभी किसान अपने-अपने घर लौट आए। अगले दिन सुबह बाजरे के खेत में एक आधा खाया हुआ गौवंश का शव मिला... और पढ़ें