advertisements
advertisements

Kerala BJP MP Suresh Gopi : पीएम मोदी के मंत्री सुरेश गोपी ने इस्तीफे की उड़ती खबरों पर दी सफाई, बोले- सरासर गलत है

पीएम मोदी के मंत्री सुरेश गोपी ने इस्तीफे की उड़ती खबरों पर दी सफाई, बोले- सरासर गलत है
UPT | Suresh Gopi

Jun 10, 2024 16:29

सुरेश गोपी ने कहा कि वह किसी भी कीमत पर अपनी फिल्में करना चाहते हैं, इसलिए वह जल्द ही इस पद से मुक्त हो जाएंगे। लेकिन इस बात की चर्चा तेज होते ही उन्होंने इस मामले में सफाई पेश की है। सुरेश गोपी ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा...

Jun 10, 2024 16:29

Short Highlights
  • सुरेश गोपी के मंत्री पद छोड़ने की आई थी खबर
  • सफाई पेश करते हुए बोले इस्तीफे की खबर गलत है 
  • केरल में भाजपा का खाता खोलने में सुरेश गोपी की महत्वपूर्ण भूमिका है

 

New Delhi News : देश में लोकसभा चुनाव के बाद बीते दिन रविवार को नई सरकार का गठन हुआ। जहां नरेंद्र मोदी ने तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। इसके अलावा 72 सांसदों ने कैबिनेट मंत्री और केंद्रीय राज्य मंत्री का पद ग्रहण किया। जिसमें केरल से बीजेपी के इकलौते सांसद सुरेश गोपी भी शामिल हैं। जानकारी के अनुसार, उन्होंने मंत्री पद से मुक्त होने की पेशकश की थी। सुरेश गोपी के इस फैसले से हर कोई हैरान रह गया था। सुरेश गोपी ने कहा कि उन्होंने मंत्री पद की मांग नहीं की थी। वो त्रिशूर के सांसद के पद पर ही काम करेंगे। हालांकि बाद में उन्होंने इस मामले पर सफाई देते हुए कहा कि ये खबर सरासर गलत है।

इस्तीफे की खबर को बताया गलत
दरअसल, रविवार को मंत्री पद की शपथ लेने वाले सुरेश गोपी ने एक मीडिया चैनल को दिए इंटरव्यू में बताया कि वो बस एक सांसद के तौर पर अपने क्षेत्र के लिए काम करना चाहते हैं। सरकार ने उन्हें मंत्री बनाया है इसके लिए वो आभारी हैं लेकिन वो मंत्री होने के दायित्व नहीं निभा सकते। ऐसे में जल्द ही उन्हें इस जिम्मेदारी से मुक्त किया जाए। सुरेश गोपी ने कहा कि वह त्रिशूर के लोगों के लिए काम करना चाहते हैं और उन्हें वहां की जनता से कोई दिक्कत नहीं है। लेकिन वो किसी भी कीमत पर अपनी फिल्में करना चाहते हैं, इसलिए वह जल्द ही इस पद से मुक्त हो जाएंगे। लेकिन इस बात की चर्चा तेज होते ही उन्होंने इस मामले में सफाई दी है। सुरेश गोपी ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा, कुछ मीडिया प्लेटफॉर्म खबरें फैला रहे हैं कि मैं मोदी सरकार के मंत्रिपरिषद से इस्तीफा देने जा रहा हूं। यह सरासर गलत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हम केरल के विकास और समृद्धि के लिए प्रतिबद्ध हैं।

पहली बार केरल में आई बीजेपी
बता दें कि ये पहली बार है जब लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने केरल में जीत दर्ज की है। ऐसे में केरल में भाजपा का खाता खोलने में सुरेश गोपी की महत्वपूर्ण भूमिका मानी जाती है। उन्होंने भाजपा के टिकट पर त्रिशूर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था। जहां उनका सामना भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (CPI) के वी.एस. सुनील कुमार से था। सुरेश गोपी ने सीपीआई उम्मीदवार को 74,686 वोटों से हरा कर जीत हासिल की। जहां एक तरफ सुरेश गोपी को 412338 वोट मिले थे तो वहीं सीपीआई के वी.एस. सुनील कुमार को 337652 वोट मिले थे। जबकि कांग्रेस प्रत्याशी के. मुरलीधरन 328124 मतों के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

साउथ फिल्मों का जाना-पहचाना चेहरा
सुरेश गोपी इससे पहले 2022 तक राज्यसभा से सांसद रह चुके हैं। साथ ही वो साउथ फिल्मों का जाना-माना चेहरा हैं। सुरेश गोपी का जन्म 1958 में केरल के अलप्पुझा  में हुआ था। उन्होंने कोल्लम से साइंस सब्जेक्ट में डिग्री ली और अंग्रेजी से मास्टर्स किया। उन्होंने बाल कलाकार के रूप में फिल्मों में काम करना शुरू किया था। बता दें कि  सुरेश गोपी को 1998 में आई फिल्म कलियाट्टम के लिए बेस्ट एक्टर का राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिल चुका है।

Also Read

भारत में हर 13 घंटे में एक बच्चे का बलात्कार, जानें कहां करें शिकायत

13 Jun 2024 06:26 PM

नेशनल यौन उत्पीड़न के तरीके बताती थी महिला यूट्यूबर : भारत में हर 13 घंटे में एक बच्चे का बलात्कार, जानें कहां करें शिकायत

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने साल 2002 में एक रिपोर्ट जारी की थी। इसके अनुसार दुनियाभर में 18 साल से कम उम्र के 7.9 फीसदी लड़के और 19.7 फीसदी लड़कियां यौन हिंसा की शिकार हैं। और पढ़ें