advertisements
advertisements

Prayagraj News : उमेशपाल हत्याकांड में अतीक के बेटे उमर और अली भी दोषी, धूमनगंज पुलिस की ओर से कोर्ट में रिमांड की अर्जी मंजूर

उमेशपाल हत्याकांड में अतीक के बेटे उमर और अली भी दोषी, धूमनगंज पुलिस की ओर से कोर्ट में रिमांड की अर्जी मंजूर
UPT | अतीक के बेटे अली और उमर

Apr 03, 2024 15:11

प्रयागराज में हुए चर्चित उमेश पाल हत्याकांड में माफिया गैंग के खिलाफ पुलिस की चल रही कार्रवाई के क्रम में प्रयागराज़ पुलिस ने मंगलवार को फिर बड़ी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने उमेश पाल हत्याकांड में माफिया अतीक अहमद के बेटों उमर और अली का रिमांड बनवाया गया। जिससे अब उनको भी इसमें साजिशकर्ता में शामिल कर दिया गया…

Apr 03, 2024 15:11

Short Highlights
  • हत्या से पहले मुख्य शूटर असद कई बार लखनऊ जेल में जाकर उमर से मिला था।
  • दूसरी तरफ अली से मिलने हत्याकांड के अन्य शूटरों गुड्डू मुस्लिम, गुलाम, अरमान ने नैनी जेल में जाकर अली अहमद से मुलाकात की थी।
Prayagraj News : प्रयागराज में हुए चर्चित उमेश पाल हत्याकांड में माफिया गैंग के खिलाफ पुलिस की चल रही कार्रवाई के क्रम में प्रयागराज़ पुलिस ने मंगलवार को फिर बड़ी कार्रवाई की। इस कार्यवाही में पुलिस ने उमेश पाल हत्याकांड में माफिया अतीक अहमद के बेटों उमर और अली का रिमांड बनवाया गया और इसके साथ ही दोनों हत्याकांड के अभियुक्त हो गए। दोनों पर हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप है।
 
कोर्ट ने उनका रिमांड मंजूर किया
इस मुकदमे के विवेचक एसीपी वरुण कुमार के धूमनगंज पुलिस की ओर से पेश की गई अर्जी स्वीकार करते हुए कोर्ट ने उनका रिमांड मंजूर किया। आप को बता दें की उमर लखनऊ की जेल में बंद है जबकि अली अहमद नैनी जेल में बंद है। मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये उनकी एससी एसटी कोर्ट में पेशी हुई थी। इस दौरान एसीपी धूमनगंज की ओर से रिमांड अर्जी पेश की गई। जिस पर कोर्ट ने उनका डिमांड मंजूर कर लिया। सूत्रों का कहना है की उमर और अली दोनों के खिलाफ इस बात के पुख्ता सबूत मिले हैं कि वह इस हत्याकांड की साजिश में पूरी तरह शामिल थे।
 
 हत्या से पहले मुख्य शूटर असद कई बार लखनऊ जेल में जाकर उमर से मिला था
 हत्या से पहले मुख्य शूटर असद कई बार लखनऊ जेल में जाकर उमर से मिला था।दूसरी तरफ अली से मिलने हत्याकांड के अन्य शूटरों गुड्डू मुस्लिम, गुलाम, अरमान ने नैनी जेल में जाकर अली अहमद से मुलाकात की थी। सूत्रों का कहना है कि विवेचना के दौरान पुलिस को यह भी पता चला है कि उमेश की हत्या पहले ही किए जाने की प्लानिंग थी और इसमें देरी होने पर नैनी जेल में बंद अली ने शूटरों को काफी व खरी-खोटी भी सुनाई थी।
 
 अतीक परिवार के आठवें और नौवें मुल्जिम
उमर और अली को भी अभियुक्त बनाए जाने के बाद अब उमेश पाल की हत्या में अतीक परिवार के कुल 9 सदस्य आरोपी हो गए हैं। बता दें कि इस हत्याकांड में इससे पहले तक अतीक परिवार के सात लोगों का नाम शामिल था। इनमें अतीक अहमद अशरफ, असद, शाइस्ता परवीन, जैनब, आयशा नूरी और उसका पति इकलाख अहमद शामिल हैं। अतीक, अशरफ और असद की मौत हो चुकी है. जबकि इकलाख अहमद जेल में है। शाइस्ता परवीन, जैनब और आयशा नूरी की तलाश की जा रही है।

Also Read

डीएम के निर्देश पर 5 वर्ष से अधिक तहसील में लम्बित 264 वादों का किया गया निस्तारण

19 Apr 2024 02:02 AM

प्रतापगढ़ Pratapgarh news : डीएम के निर्देश पर 5 वर्ष से अधिक तहसील में लम्बित 264 वादों का किया गया निस्तारण

प्रतापगढ़ जिलाधिकारी संजीव रंजन द्वारा तहसीलदारों एवं नायब तहसीलदारों के न्यायालय में लम्बित 05 वर्ष से अधिक पुराने नामान्तरण... और पढ़ें