advertisements
advertisements

चुनाव हारने के बाद मंत्री संजीव बलियान ने संगीत सोम पर साधा निशाना : बोले-‘मेरा पानी उतरता देख किनारे पर घर मत बना लेना, मैं समंदर हूं लौटकर जरूर आऊंगा'...

बोले-‘मेरा पानी उतरता देख किनारे पर घर मत बना लेना, मैं समंदर हूं लौटकर जरूर आऊंगा'...
UPT | संजीव बालियान और संगीत सोम।

Jun 11, 2024 12:04

संजीव बालियान ने सोमवार को पत्रकारों से रूबरू होकर बतौर बीजेपी सांसद अपने पिछले दस सालों के कार्यकाल में कराए गए बड़े विकास कार्यों के बारे में बात की। इस दौरान उन्होंने हार के लिए मुस्लिम वोटों के ध्रुवीकरण और अपनी ही पार्टी के 'जयचंदों' को कोसा।

Jun 11, 2024 12:04

Muzaffarnagar News : पश्चिमी उत्तर प्रदेश की हाईप्रोफाइल मुजफ्फरनगर सीट पर लोकसभा चुनाव में भाजपा को मिली हार की समीक्षा शुरू हो गई है। मुजफ्फरनगर सीट पर हार का मुंह देखने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने भाजपा नेता संगीत सोम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। साथ ही संजीव बालियान ने शायराना अंदाज में कहा कि ‘मेरा पानी उतरता देख किनारे पर घर मत बना लेना, मैं समंदर हूं लौटकर जरूर आऊंगा'।
संजीव बालियान ने सोमवार को पत्रकारों से रूबरू होकर बतौर बीजेपी सांसद अपने पिछले दस सालों के कार्यकाल में कराए गए बड़े विकास कार्यों के बारे में बात की। इस दौरान उन्होंने हार के लिए मुस्लिम वोटों के ध्रुवीकरण और अपनी ही पार्टी के 'जयचंदों' को कोसा। मुजफ्फरनगर सीट से दो बार सांसद रहे संजीव बालियान अपनी हार के बाद दिल्ली चले गए थे। आज मुजफ्फरनगर लौटे तो अपने 10 साल का पूरा लेखा-जोखा सामने रखा। इस दौरान उन्होंने अपनी हार के तीन कारण गिनाए हैं। उनका कहना है कि मुस्लिम मतों का ध्रुवीकरण, हिंदू जातियों का आपस में बंटवारा और मतदान प्रतिशत में गिरावट की वजह से मुझे हार का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही संजीव बालियान ने भीतरघात की भी बात की।

इन पर फोड़ा हार का ठीकरा
संजीव बालियान ने कहा कि इस हार की वजह मुस्लिम वोटों का ध्रुवीकरण और हिंदू वोटरों का मतदान कम होना है। सरधना से पूर्व विधायक संगीत सोम को लेकर भी उन्होंने कहा कि यह बात सबको पता है कि संगीत सोम ने समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी को चुनाव लड़ाया है, खुलकर लड़ाया है। चुनाव हारने में जयचंदों का हाथ है। बीजेपी के लोग ही पार्टी के खिलाफ काम कर रहे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने का काम पार्टी हाईकमान का है। संजीव बालियान ने कहा कि संगीत सोम सरकारी सुविधाओं का लाभ भी ले रहे हैं, जो कि अनुचित है। पार्टी को इस पर ध्यान देकर कार्रवाई करनी चाहिए थी। गौरतलब है कि चुनाव के दौरान संगीत सोम ने संजीव बालियान के खिलाफ शीत युद्ध लड़ा। इसका असर परिणामों में दिखा।

लगातार मंत्री रहे संजीव बालियान
बता दें कि संजीव बालयान इससे पहले मोदी सरकार में लगातार मंत्री पद पर थे। इस बार की चुनावी हार के बाद उन्हें कैबिनेट में जगह नहीं दी गई है। अब बालियान ने कहा है कि मुजफ्फरनगर में कुछ और बड़े कार्य हैं, जो अधूरे रह गए हैं। उम्मीद है कि उन्हें अब नवनिर्वाचित सांसद पूरा करने का काम करेंगे। इसके लिए वह उनका पूरा साथ देंगे। बालियान ने बताया कि मुजफ्फरनगर तक आरआरटीएस को लाने का उनका प्रयास था, जो मेरठ तक आ चुकी है और जल्द ही चालू होने वाली है। जिसे मुजफ्फरनगर तक लाने की भी कार्ययोजना है, केवल फंड आवंटित होना है। मुजफ्फरनगर में एक मेडिकल कॉलेज की आवश्यकता है, उसे नए सांसद को बनवाना है। साथ ही मुजफ्फरनगर में सरकारी या प्राइवेट यूनिवर्सिटी नहीं है, जो मुजफ्फरनगर में जरूरी है। बालियान ने दस सालों के कार्यकाल के दौरान मिले जनता के भरपूर प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद दिया है।

मुजफ्फरनगर सीट पर मिली हार
इस चुनाव में मुजफ्फरनगर सीट पर बीजेपी उम्मीदवार संजीव बालियान और सपा के उम्मीदवार हरेंद्र सिंह एक दूसरे से सामने थे। लेकिन मुकाबले में सपा नेता बाजी मार गए। हरेंद्र ने बड़े वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है। सपा नेता हरेंद्र सिंह मलिक को कुल 470721 वोट मिले। वहीं बीजेपी नेता संजीव बालियान को 4,46,049 वोट मिले थे। 

Also Read

देवबंद में केआरके के खिलाफ केस, बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर की अभद्र टिप्पणी

13 Jun 2024 04:27 PM

सहारनपुर Saharanpur News : देवबंद में केआरके के खिलाफ केस, बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर की अभद्र टिप्पणी

अक्सर विवादास्पद बयानों और आपत्तिजनक टिप्पणियों को लेकर चर्चा में रहने वाले फिल्म अभिनेता कमाल राशिद खान (KRK) के खिलाफ देवबंद पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 500, 509 और एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। अभिनेता ने बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती के खिलाफ अपम... और पढ़ें