Agra News : एनकाउंटर के डर से शातिर अपराधी ने जज से जमानत मंजूर न करने की लगाई गुहार, जानें क्या है पूरा मामला

एनकाउंटर के डर से शातिर अपराधी ने जज से जमानत मंजूर न करने की लगाई गुहार, जानें क्या है पूरा मामला
UPT | District and Sessions Court

Jun 11, 2024 19:58

देश में हजारों अपराधी न्यायालय से जमानत की गुहार लगाते हुए दिखाई देते हैं, आगरा के न्यायालय में कुछ अलग ही नजारा देखने को मिला। अपराधी सीजेएम के सामने जमानत मंजूर न करने के लिए गिड़गिड़ाता रहा...

Jun 11, 2024 19:58

Agra News (Prdeep Kumar Rawat) : उत्तर प्रदेश पुलिस का बदमाशों और अपराधियों में कितना खौफ है इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिला एवं सत्र न्यायालय आगरा में एक बदमाश ने न्यायालय में अपनी जमानत याचिका को अस्वीकार करने की जज से मांग की। बदमाश सीजेएम के सामने अपनी जमानत अस्वीकार करने के लिए गिड़गिड़ाता दिखाई दिया। शातिर अपराधी सीजेएम के समक्ष कहा कि अगर मुझे जमानत मिल गई तो पुलिस उसका एनकाउंटर ढेर कर देगी। जेल में निरुद्ध विनय वर्मा उर्फ बिल्लू वर्मा ने हाथरस पुलिस पर गंभीर आरोप लगाया कि पुलिस उसे मुठभेड़ में मार डालेगी। इसलिए उसे जमानत नहीं चाहिए। 

क्या है पूरा मामला
शातिर बदमाश के अनुसार, उसके भाई पर दबाव बनाकर जमानत के लिए प्रार्थनापत्र दाखिल कराया गया है। सुनवाई के बाद सीजेएम अचल प्रताप सिंह ने जमानत याचिका निरस्त कर उसे पुनः जेल भेज दिया गया। सोमवार को कोर्ट में पेशी पर आए बदमाश विनय वर्मा उर्फ बिल्लू ने सीजेएम अचल प्रताप सिंह से अपनी जमानत याचिका खारिज करने की अपील की। बिल्लू की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अवधेश कुमार शर्मा, रमाशंकर शर्मा और राहुल शर्मा ने कहा कि हाथरस के बिल्लू वर्मा पर 2019 में थाना हरीपर्वत में चौथ वसूली का मुकदमा विचाराधीन है। 2023 से गिरफ्तारी वारंट जारी थे। 6 जून 2024 को सीजेएम कोर्ट में समर्पण कराया था।
 
पुलिस ने मोनू वर्मा पर थर्ड डिग्री इस्तेमाल की
हाथरस पुलिस उसकी जमानत कराकर अपनी हिरासत में लेना चाहती थी। इसके लिए हाथरस पुलिस ने बिल्लू वर्मा के भाई मोनू वर्मा पर थर्ड डिग्री इस्तेमाल की। उसका हाथ तक तोड़ दिया। भाई से जबरन जमानत याचिका दाखिल कराई है। सीजेएम कोर्ट में पुलिस करीब पौने दो बजे तक बिल्लू को नहीं लाई।
 
जमानत मंजूर न करने की लगाई गुहार
अधिवक्ताओं की पहल पर कोर्ट ने बिल्लू को दीवानी स्थित बंदी गृह से बुलवाया और अपने सामने पेशी कराई। बिल्लू ने हाथ जोड़कर गिड़गिड़ाते हुए सीजेएम से गुहार लगाई कि उसकी जमानत मंजूर न की जाए। हाथरस पुलिस उसे मुठभेड़ में मार डालेगी। बंदी की फरियाद पर कोर्ट ने जमानत प्रार्थना पत्र निरस्त कर जेल भेज दिया है।

गोली मारने की घटना में बिल्लू बरी हो गया
2012 में बिल्लू वर्मा के नाम का सर्राफा बाजार में खौफ था। कई सर्राफों से गैंग चौथ वसूल चुका था। सर्राफा कमेटी के एक पदाधिकारी को गोली मारने में भी उसका नाम सामने आया था। पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया तो कई और सर्राफों के नाम टारगेट की सूची में उसने गिनाए। बाद में सर्राफा कमेटी के पदाधिकारी को गोली मारने की घटना में वह बरी हो गया।  

Also Read

कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव सहमति के साथ पास किए गए

14 Jun 2024 11:24 PM

आगरा मंडलायुक्त की अध्यक्षता में सलाहकार समिति की 37वीं बैठक : कई महत्वपूर्ण प्रस्ताव सहमति के साथ पास किए गए

भगवान टॉकीज से प्रतापपुरा चौराहा होते हुए रमाडा फ्लाईओवर तक लगभग 1.40 करोड़ की लागत से थीम पेटिंग का कार्य, मैट्रो ट्रैक के नीचे लगभग 3 करोड़ की लागत से फसाड़ लाईटिंग के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गयी... और पढ़ें