Lucknow News :  AKTU के स्टूडेंट 20 जून तक कर सकेंगे असेसमेंट के लिए आवेदन, जानें पूरी प्रक्रिया...

AKTU के स्टूडेंट 20 जून तक कर सकेंगे असेसमेंट के लिए आवेदन, जानें पूरी प्रक्रिया...
UPT | डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय

Jun 10, 2024 14:57

लखनऊ के डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय ने कहा ​है कि छात्रों 20 जून तक असेसमेंट को चुनौती दे सकते हैं। इसके लिए छात्र को विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर पुनर्मूल्यांकन के लिए...

Jun 10, 2024 14:57

Lucknow News : लखनऊ के डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय ने कहा ​है कि छात्रों 20 जून तक असेसमेंट को चुनौती दे सकते हैं। इसके लिए छात्र को विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन कर सकते हैं। छात्रों को अपनी आंसर शीट देखने के लिए 20 जून तक आवेदन करना होगा।

300 रुपये का शुल्क जमा करना होगा
एकेटीयू के परीक्षा नियंत्रक प्रो. राजीव कुमार के अनुसार, प्राविधिक विश्वविद्यालय से संबद्ध सभी संस्थानों की विषम सेमेस्टर 2023-24 की परीक्षाएं 9 जनवरी से 9 फरवरी के बीच हुई थीं। उनके परिणाम भी घोषित हो चुके हैं। छात्रों की असेसमेंट चुनौती की मांग को देखते हुए यूनिवर्सिटी प्रशासन ने उन्हें मौका देने का निर्णय लिया है। परीक्षा समिति में लिए गए निर्णय के अनुसार, विषम सेमेस्टर परीक्षा की असेसमेंट आंसर शीट देखने के लिए छात्रों को वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके लिए छात्रों को प्रति विषय 300 रुपये का शुल्क जमा करना होगा।

असेसमेंट के लिए 20 जून तक करें आवेदन
आंसर शीट देखने के लिए छात्रों को शुल्क जमा करना होगा। आंसर शीट देखने के लिए छात्रों को यूजर आईडी और पासवर्ड उपलब्ध कराया जाएगा। यदि छात्रों को आंसर शीट देखने के बाद मूल्यांकन में कोई आपत्ति है, तो वे वेबसाइट पर ही उसे चुनौती देने के लिए आवेदन कर सकते हैं। छात्रों को असेसमेंट को चुनौती देने के लिए प्रति विषय 2500 रुपये जमा करने होंगे। छात्र आंसर शीट देखने के लिए 20 जून तक आवेदन कर सकते हैं। इसके बाद असेसमेंट को चुनौती देने के लिए आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे।

Also Read

स्क्रैप ठेकेदार की साहस देखकर सब दंग, अधिकारी-कर्मचारी लिए गए हिरासत में

14 Jun 2024 10:45 PM

लखनऊ सीबीआई का रेलवे भंडारण विभाग पर छापा : स्क्रैप ठेकेदार की साहस देखकर सब दंग, अधिकारी-कर्मचारी लिए गए हिरासत में

गुरुवार को ठेकेदार स्क्रैप माल लेने के लिए रेलवे स्टोर पहुंचा था। इस दौरान, डीएसके के पद पर तैनात अविरल कुमार ने ठेकेदार से रिश्वत मांगी। ठेकेदार ने जैसे ही रिश्वत की रकम दी, सीबीआई ने अविरल कुमार को रंगे हाथों पकड़ लिया। और पढ़ें