advertisements
advertisements

हापुड़ पुलिस का एक्शन : 10वीं फेल ने फर्जी IAS अधिकारी बनकर की ठगी, जानिए कैसे लगाया लाखों का चूना

10वीं फेल ने फर्जी IAS अधिकारी बनकर की ठगी, जानिए कैसे लगाया लाखों का चूना
UPT | पुलिस गिरफ्त में ठगी का आरोपी

Apr 02, 2024 16:41

जिले में फर्जी आईएएस (IAS) अधिकारी बनाकर नौकरी लगवाने के नाम पर दो लोगों से लाखों रुपये की ठगी करने वाला एक आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा है...

Apr 02, 2024 16:41

Hapur News (Shahrukh Khan) : जिले में फर्जी आईएएस (IAS) अधिकारी बनाकर नौकरी लगवाने के नाम पर दो लोगों से लाखों रुपये की ठगी करने वाला एक आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा है। पीड़ित को आरोपी ने आयकर विभाग में नौकरी के फर्जी नियुक्ति पत्र भी थमा दिए। जब पीड़ित को ठगी का अहसास हुआ तो पीड़ित नें पुलिस से शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की थी। साइबर क्राइम थाना पुलिस ने मामले की जांच के बाद फर्जी आईएएस अधिकारी को गिरफ्तार कर लिया है। जिसके कब्जे से एक मोबाइल, नकदी, इनकम टैक्स विभाग का फर्जी आईकार्ड, आईएएस अधिकारी का फर्जी आईकार्ड बरामद हुआ है।

खुद को बताया आईएएस अधिकारी
जानकारी के अनुसार, गांव गजालपुर के रहने वाले अनिल कुमार ने साइबर थाने में मुकदमा दर्ज कराते हुए बताया था कि वह श्री हरि जी परमात्मा महाराज वाग बहादुरी नगरी तहसील पटयाली जिला एटा का अनुयायी है और अक्सर महात्मा के आश्रम में आता-जाता रहता है। कुछ समय पहले प्रियांस नामक एक व्यक्ति ने उसे फोन किया और बताया कि वह महात्मा का अनुयायी है। इस दौरान आरोपी ने खुद को आईएएस (IAS) अधिकारी बताया और कहा कि वह अपने कोटे से चतुर्थ श्रेणी में 2 पदों पर नौकरी लगवा देगा। जिसके बाद आरोपी ने उससे और उसके पड़ोस में रहने वाले भतीजे दीपक से 70 हजार रुपये और 1 लाख 6 हजार रुपये नौकरी लगवाने के नाम पर ऑनलाइन मंगवा लिए और कागजात भी मंगवा लिए। पीड़ित ने आरोपी से तैनाती के बारे में पूछा तो उसने बताया कि उसका पूरा नाम निशान्त जैन है। वह आईएएस (IAS) अधिकारी है और जालौन डीएम के पद पर कार्यरत है। इस दौरान आरोपी ने एक आईकार्ड व्हाट्‌सएप पर भी भेजा।

इनकम टैक्स के दिए फर्जी न्यूक्ति पत्र
पीड़िता ने बताया कि उसकी और उसके भतीजे की काफी दिनों तक भी कहीं नौकरी नहीं लगी। जिसके बाद उन्होंने आरोपी से अपनी धनराशि को वापस मांगी। इस पर आरोपी कहने लगा कि आप लोगो को जल्द ही इनकम टैक्स हापुड़ में नियुक्ति मिल जाएगी। आरोपी ने पीड़ित को व्हाटसएप पर इनकम टैक्स हापुड़ में 2 नियुक्ति पत्र व्हाटसएप पर भेजे। पीड़ित जब नियुक्ति पत्र लेकर इनकम टैक्स विभाग हापुड पहुंचा, तो वो नियुक्ति पत्र फर्जी निकला। पीड़ित ने पैसे वापस मांगे तो वह बार बार चकमा देता रहा। तब उसे पता चला कि उसके साथ ऑनलाईन स्कैम हुआ है। पीड़ित ने आरोपी पर ज्यादा दबाव दिया तो निशान्त जैन ने 20 हजार रुपये वापस भी कर दिए है और उसके बाद से वह उसका फोन नहीं उठाया। 

आरोपी को पुलिस नें किया गिरफ्तार 
एसपी अभिषेक वर्मा नें जानकारी देते हुए बताया कि पीड़ित अनिल कुमार की शिकायत पर जांच कर रही पुलिस टीम को एक युवक का नाम समाने आया था। जिसके बाद पुलिस ने प्रयांस कुमार को गिरफ्तार कर लिया। बताया गया है कि पकड़ा गया आरोपी 10 वीं फैल है। आरोपी जगह-जगह जाकर कीर्तन अटेंड करता है। हरि जी महाराज के सत्संग में पीड़ित से आरोपी की मुलाक़ात हुई थी। जिसमें आरोपी नें पीड़ित का नंबर ले लिया और कॉल करके अपने आप को आईएएस (IAS) अधिकारी बताकर झांसे में ले लिया।

Also Read

निधि रानी ने 12वीं में और तानिष ने 10वीं में किया टॉप, गौतमबुद्ध नगर में दौड़ी खुशी की लहर

20 Apr 2024 07:50 PM

गौतमबुद्ध नगर UP board result 2024 : निधि रानी ने 12वीं में और तानिष ने 10वीं में किया टॉप, गौतमबुद्ध नगर में दौड़ी खुशी की लहर

यूपी बोर्ड ने एग्जाम के सिर्फ 41 दिनों के बाद ही रिजल्ट जारी कर दिया है। 10वीं कक्षा में दनकौर गांव के एसडीएस इंटर कॉलेज के छात्र तानिष ने 600 में से 575 अंक प्राप्त करके 95.83% अंक हासिल किए और जिले में टॉप किया... और पढ़ें