advertisements
advertisements

Pratapgarh News : कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने कम्फर्ट इन, कटरा में आयोजित की प्रेस वार्ता

कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने कम्फर्ट इन, कटरा में आयोजित की प्रेस वार्ता
UPT | कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर

Apr 02, 2024 17:10

हमने देखा कि भ्रष्टाचारी किस घमंड से अपने द्वारा किए गए भ्रष्टाचार को सही साबित कर रहे हैं। ​​प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि 'भ्रष्टाचार हटाओ, मगर इडी गठबंधन के नेता कहते हैं कि 'भ्रष्टाचारी…

Apr 02, 2024 17:10

Pratapgarh news : कैबिनेट मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार अनिल राजभर ने आज कम्फर्ट इन, कटरा में आयोजित प्रेस वार्ता में इडी गठबंधन द्वारा रामलीला मैदान दिल्ली हुई रैली के संबंध में आज मंगलवार को पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि हम सभी ने रामलीला मैदान में भ्रष्टाचार के भाईचारा का नाटक देखा। हमने देखा कि भ्रष्टाचारी किस घमंड से अपने द्वारा किए गए भ्रष्टाचार को सही साबित कर रहे हैं।
​​प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि 'भ्रष्टाचार हटाओ, मगर इडी गठबंधन के नेता कहते हैं कि 'भ्रष्टाचारी को बचाओ। प्रधानमंत्री मोदी के लिए देश की 140 करोड़ जनता उनका परिवार है, और मोदी जी अपने परिवार को भ्रष्टाचारियों से बचाने की लड़ाई लड़ रहें हैं। जिसने देश को लूटा है, उसे लौटाना ही पड़ेगा, ये मोदी की गारंटी है। इडी गठबंधन घोटालेबाजों की बारात है जहां सब देश को लूटना चाहते हैं और यह भी चाहते हैं कि उसके भ्रष्टाचार पर चर्चा न हो।
 
यह किसी व्यक्ति के समर्थन में नहीं बल्कि पूरे गठबंधन की रैली है
कांग्रेस कहती है कि यह किसी व्यक्ति के समर्थन में नहीं बल्कि पूरे गठबंधन की रैली है। कांग्रेस-आम आदमी पार्टी दिल्ली में तो इलू-इलू कर रही है लेकिन पंजाब में 'हम आपके हैं कौन हो रहा है। बताइए ये कैसा गठबंधन हुआ। ये तो बस जनता को लूटने वाला ठगबंधन है। पश्चिम बंगाल में ममता ने साथ में लड़ने से इनकार कर दिया। बिहार में आरजेडी ने अपने उम्मीदवार पहले घोषित कर दिए। कर्नाटक में उद्धव ठाकरे ने अपने उम्मीदवार पहले घोषित कर दिए।

एक दूसरे पर लांछन लगा रहे
कांग्रेस और आम आदमी पार्टी छोड़ कर सांसद और विधायक जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को कोई भाव नहीं दे रहा। इस घमंडिया गठबंधन काम है, सिर्फ जनता को जितना हो सके लूटो, हर दिन नया झूठ बोलो,मोदी जी को गाली दो, विदेशों में देश को बदनाम करो, सनातन धर्म को गाली दो और हिन्दू धर्म को बदनाम करो, जांच एजेंसियां जब नोटिस दे तो इग्नोर करो और जब कार्रवाई हो तो कोर्ट पहुँचो फिर कोर्ट भी फटकार लगाए तो विक्टिम कार्ड खेलते हुए देश के लोकतंत्र पर खतरा बताओ, जनता को गुमराह करो और सारे चोर इकट्ठे हो कर छाती पीट-पीट कर बोलो कि 'भ्रष्टाचार बचाओ'।

भ्रष्टाचार के मामले में या तो जेल में हैं या बेल पर
इस टोली को देखिये तो पता चलेगा कि जो भ्रष्टाचारी हैं, वो भ्रष्टाचार के मामले में या तो जेल में हैं या बेल पर हैं, और वही 'भ्रष्टाचार बचाओ रैली निकाल रहे हैं। ये संदेशखाली पर चुप रहते हैं। इनके नेता देश तोड़ने की बात करते हैं लेकिन उस पर बजपवद के बजाय लोक सभा का टिकट देते हैं। ये देश की शक्ति का अपमान करते हैं लेकिन सब चुप रहते हैं।
 
ये शाहजहां शेख जैसे अपराधी पर चुप रहते हैं
ये उदयनिधि स्टालिन के सनातन विरोधी बयान पर चुप रहते हैं ये रामचरितमानस के अपमान पर चुप रहते हैं। ये अपने घोटाले पर चुप रहते हैं लेकिन सजा पर सवाल उठाते हैं ये हिंदू देवी-देवताओं के अपमान पर चुप रहते हैं ये झूठे आरोप लगाते हैं लेकिन बाद में माफी मांगते हैं। जेल में बंद नेताओं को कोर्ट भी जमानत नहीं दे रही है। सत्येन्द्र जैन, मनीष सिसोदिया, संजय सिंह, हेमंत सोरेन को जमानत भी नहीं मिल रही है।

केजरीवाल कोर्ट के आदेश पर रिमांड पर हैं
कांग्रेस पार्टी से इनकम टैक्स की रिकवरी को दिल्ली हाईकोर्ट सही ठहरा रहा है,शाहजहाँ शेख पर कोर्ट ने संज्ञान लिया,लालू यादव पर कोर्ट से मामला तय हो रहा है। तो क्या इंडी ठगबंधन कोर्ट के खिलाफ ये रैली कर रहा है? आज कल देश में विपक्षी पार्टियों द्वारा भ्रष्टाचार को मैडल की तरह पेश करने का फैशन चल पड़ा है। उनका भ्रष्टाचार ही उनका शिष्टाचार बन गया है। मामला कोर्ट में हो तब भी इन सबको गुमराह करना है। जिला अध्यक्ष आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि इंडी गठबंधन के यूपी पार्टनर्स का हाल ये है कि 
इस अवसर पर सांसद प्रतापगढ़ संगमलाल गुप्ता,लोकसभा संयोजक राय साहब सिंह,जिला महामंत्री राजेश सिंह, जिला सह मीडिया प्रभारी देवेश त्रिपाठी उपस्थित रहे।

Also Read

डीएम के निर्देश पर 5 वर्ष से अधिक तहसील में लम्बित 264 वादों का किया गया निस्तारण

19 Apr 2024 02:02 AM

प्रतापगढ़ Pratapgarh news : डीएम के निर्देश पर 5 वर्ष से अधिक तहसील में लम्बित 264 वादों का किया गया निस्तारण

प्रतापगढ़ जिलाधिकारी संजीव रंजन द्वारा तहसीलदारों एवं नायब तहसीलदारों के न्यायालय में लम्बित 05 वर्ष से अधिक पुराने नामान्तरण... और पढ़ें